डिमेंशिया रोग मानव शरीर के किस अंग से जुड़ा हुआ है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


श्याम कश्यप

Choreographer---Dance-Academy | पोस्ट किया |


डिमेंशिया रोग मानव शरीर के किस अंग से जुड़ा हुआ है ?


0
0




Content writer | पोस्ट किया


अक्सर देखा जाता है कुछ लोग पुरानी बातों को याद करने में बहुत समय लगाते है और कई लोग कहते है हमें याद ही नहीं है , ऐसी छोटी - छोटी बातों को हम भले ही नज़र अंदाज़ कर देते है लेकिन आपको बता दें कि यह कोई आम समस्यां है, क्योंकि यह एक बीमारी है जिसे डिमेंशिया कहा जाता है | डिमेंशिया ऐसी ही एक बीमारी है जिसमें इंसान सब कुछ पहले की बातें भूलने लगता है, यहाँ तक की कुछ देर पहले की बात को याद करने में भी उसे तकलीफ महसूस होती है और दिमाग पर बहुत अधिक ज़ोर लगाना पड़ता है |



Letsdiskuss (courtesy-Laboratory Equipment)

डिमेंशिया एक सिंड्रोम है, जिसमें इंसान के सोचने में परेशानी हो जाती है और बाकी समस्याओं का हल ढूँढना मुश्किल हो जाता है। यह मात्र केवल भूलने की बीमारी नहीं है बल्कि इतनी खतरनाक बीमारी है जिसमें एक वक़्त पर धीरे-धीरे व्यक्ति के लिए रोजमर्रा के जरुरी काम जैसे कपड़े पहनना, खाना, भी नामुमकिन हो जाता है और उम्र के साथ - साथ यह बीमारी भी बढ़ती है |
यह बीमारी तब होती है जब मस्तिष्क के एक भाग सेरेब्रल कॉर्टेक्स में गड़बड़ी हो जाती है इसीलिए इसे डिमेंशिया कहा जाता है। दिमाग का ये हिस्सा विचार करने, निर्णय लेने जैसे महत्वपूर्ण काम करता है और अल्जाइमर रोग डिमेंशिया का सबसे आम रुप होता है।

(courtesy-McMaster Optimal Aging Portal)

डिमेंशिया होने के कुछ साधारण कारण 

- सिर पर छोट लग जाना

- मेनिन्जाइटिस, सिफलिस या एड्स जैसा कोई इन्फेक्शन

- हार्मोन सम्बन्धी परेशानियां होना

- नशे की लत होना

- खून में ख़राब ऑक्सीजन का होना


(danielhertzberg-danielhertzberg)

डिमेंशिया के लक्षण


- अचानक याद्दाश्त खो जाना

- रोज़मर्रा के साधारण काम करने में तकलीफ महसूस करना

- दूसरों से बात करने में परेशानी अनुभव करना

- आते जाते वक़्त रास्ते भूल जाना

-चीज़ों को इधर उधर रख कर भूल जाना

- मूड स्विंग्स होना

(courtesy-Food & Wine Magazine)

डिमेंशिया से बचाव
आपको बता दें की अभी तक इस समस्यां से बचने के लिए किसी तरह का कोई ख़ास टीका या दवाई उपलब्ध नहीं है फिर भी इस रोग से आसानी से बचा जा सकता है, जी हाँ इस रोग से खुद को दूर रखने के लिए जीवन में योग , पौष्टिक आहार और सकारात्मक सोच खुद में जागरूक करें | इसीलिए यह रोग मस्तिष्क और हमारी मेमोरी से जुड़ा हुआ है | 




0
0

Picture of the author