हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले ध्यानचंद के जीवन की 5 अनसुनी बातें कौन सी हैं - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Brij Gupta

Optician | पोस्ट किया | खेल


हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले ध्यानचंद के जीवन की 5 अनसुनी बातें कौन सी हैं


0
0




(BBA) in Sports Management | पोस्ट किया


आज 29 अगस्त के दिन मेजर ध्यानचंद का जन्म हुआ था | इस दिन को ध्यानचंद जयंती के कारण National sports day के रूप में मनाया जाने लगा | ध्यानचंद हॉकी के जादूगर माने जाते है, इनके कितने ही goals ने भारत को बड़े बड़े मंचो पर जीत दिलाई है| जब ध्यानचंद भारतीय हॉकी टीम का हिस्सा थे तब भारत ने लगातार तीन वर्षो तक ओलम्पिक में गोल्ड मैडल जीता था | आइये मेजर ध्यानचंद के बारे में कुछ ऐसी बातें जानते है जो हर किसी को पता नहीं होंगी |  

  • ध्यानचंद  16 वर्ष कि उम्र में ब्रिटिश इंडियन आर्मी का हिस्सा बन गए थे और तभी से उन्होंने हॉकी खेलना शुरू किया |
  • मेजर ध्यानचंद को उनके दोस्त चाँद कहकर पुकारते थे क्यूंकि वह अक्सर रात में ही अपने खेल का अभ्यास किया करते थे | उनकी इस लगन और मेहनत का ही फल था जो भारत उस दौर में हॉकी के सभी मुकाबले जीतता था | 
  •  1928 में Amsterdam में हो रहे ओलम्पिक खेलो में एक मैच के टॉप goal scorer रहे | ध्यानचंद ने 12 goal किये | समाचार पत्रों में लिखा आया "यह हॉकी नहीं बल्कि जादू है और ध्यानचंद हॉकी के जादूगर है " |
  • रिपोर्ट्स के अनुसार जर्मनी के शासक हिटलर ने ध्यानचंद को जर्मनी बुलाया और यह कहा कि वह उन्हें जर्मनी कि नागरिकता देंगे और जर्मनी कि सेना में भर्ती भी करेंगे परन्तु ध्यानचंद द्वारा इस निमंत्रण को अस्वीकार कर दिया गया 
  • नीदरलैंड कि हॉकी आर्गेनाइजेशन ने एक बार ध्यानचंद कि हॉकी स्टिक ही तोड़ दी थी क्योंकि वह यह देखना चाहते थे कि कहीं उसमे चुम्बक तो नहीं है |  
Letsdiskuss


4
0

Picture of the author