झूठ बोलने की आदत बच्चों में कैसे दूर करें? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Rinki Pandey

| पोस्ट किया | शिक्षा


झूठ बोलने की आदत बच्चों में कैसे दूर करें?


0
0




| पोस्ट किया


बच्चों में झूठ बोलने की आदत को कैसे दूर करें? हर माता-पिता चाहते कि उसका बच्चा झूठ ना बोले और अच्छे से पढ़ाई लिखाई करके अच्छा करियर बनाएं। लेकिन अक्सर ऐसी शिकायतें आती है कि झूठ बोलने से बच्चा अपनी पढ़ाई पर ध्यान नहीं देता है। झूठ बोलने वाले बच्चे की आदत कैसे सुधारे आइए जाने।

Letsdiskuss

आप पेरेंट्स है तो इस बात का ध्यान रखिए कि आपका बच्चा झूठ बोलता है तो उसकी झूठ पर विश्वास ना करें। 

 

झूठ बोलने वाले बच्चे बात को बढ़ा-चढ़ाकर बताते हैं। जब झूठ बोलते हैं तो खुद की गलती न बताकर गलती दूसरों की बताते हैं।

 

कोई बच्चा झूठ इसलिए बोलता है कि उसे डांट ना पड़े।

अगर किताब, कॉपी टाइम टेबल के अनुसार कक्षा में लेकर नहीं आया है तो वह झूठ बोल देगा - 'भूल गए हैं।'

स्कूल में विद्यालय में समाज में अपने साथियों के साथ अगर बच्चा झूठ बोलता है तो वह पढ़ाई में कमजोर होने के साथ-साथ उसका चरित्र भी कमजोर हो जाता है।

 

बच्चों के झूठ बोलने की आदत पर आप लगाम लगा सकते हैं, इसके लिए आप उनकी बातें सुने और उस पर विश्वास ना करें बल्कि सच्चाई का पता लगाएं तो इससे पता चल सकता है कि आपका बच्चा झूठ बोलता है। या सच बोलता है।

रोज उसकी स्कूल की नोटिस और डायरी को जरूर देखें। यदि बच्चे के बारे में कोई शिकायत है तो वहां पता चल जाता है।

 लेकिन झूठ बोलने वाला बच्चा कभी नहीं बताएगा। डायरी देखने पर अगर कोई कंप्लेन है और बच्चे ने पहले से नहीं बताया तो उससे पूछा आखिर ऐसा तुमने क्यों किया?

तो बच्चा मार-डांट की डर से हो सकता है, यह बात नहीं बताई , आप उसे अच्छे से समझाएं कि झूठ बोलना ठीक नहीं और तुम्हें अपनी आदतों में सुधार लाना चाहिए तभी तुम अच्छे बच्चे बनोगे।

 

बच्चा आपकी बात धीरे-धीरे मानने लगेगा और उसकी झूठ बोलने की आदत खत्म हो जाएगी।

 

बड़े बच्चों की झूठ की आदत कैसे सुधारें

 

अगर बच्चा फिर भी ना सुधरे और झूठ लगातार बोल रहा है तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए आप अपने बच्चे के झूठ बोलने की आदत पर उससे नाराज हो सकते हैं और जब तक या आदत सुधारे ना तब तक आप बच्चे को किसी भी तरह का घुमाना फिराना उपहार आदि ना दिलाए इससे बच्चा समझ जाएगा कि मम्मी हमसे नाराज हैं।

 

हर बच्चे के रोल मॉडल उनके पेरेंट्स

 

सबसे बड़ी बात है कि आप बच्चों के सामने खुद ही झूठ ना बोले क्योंकि बच्चे देखी देखा सीखते हैं सच्चाई की मिसाल अगर आप बनेंगे तो बच्चा भी जान जाएगा कि सच बोलना ही जीवन का मूल आधार होता है। ‌

 

झूठ बोलने वाले बच्चे की आदत सुधारने के लिए उसे मोरल वैल्यू वाली कहानियां सुनाएं। झूठ बोलने से होने वाले नुकसान के बारे में उसे समझाएं-बताएं। ‌ 

 

महात्मा गांधी की सत्य और अहिंसा की बातें उन्हें बताएं किस तरह से उन्होंने सच्चाई का साथ देकर भारत देश को आजाद कराया।

 

सच बोलने वाले इंसान को सभी प्यार करते हैं, यह बात अपने बच्चों को जरूर बताएं, इसके लिए आप कई महापुरुषों की जीवनी उन्हें सुना सकते हैं।

 

पंचतंत्र की कथाओं में झूठ बोलने वाली कई कथाएं हैं जिसके कारण से कैसा नुकसान होता है।‌  आप मोरल वैल्यू के माध्यम से अपने बच्चे को सिखा सकते हैं।

सच बोलने पर अपने बच्चे को प्रोत्साहित करें उसे उपहार दें और उसकी प्रशंसा सबके सामने करें। 



इन बातों का ध्यान रखेंगे तो आपके बच्चे की झूठ की आदत समाप्त हो जाएगी और बच्चा सच बोलने लगेगा। इस तरह से उसके व्यक्तित्व में सच्चाई आ जाएगी और वह कामयाबी के रास्ते पर आगे बढ़ता चला जाएगा।




1
0

| पोस्ट किया


आज हम आपको बताएंगे कि यदि आपका बच्चा भी झूठ बोलने की आदत बना लिया है तो आप उसे झूठ बोलने से कैसे बचा सकते हैं यहां पर कुछ आपको टिप्स बताएंगे।

 इसके लिए आपको पहले खुद ईमानदार बनना होगा क्योंकि अक्सर आपने देखा होगा कि ऐसे कई माता-पिता होते हैं जो खुद झूठ बोलते हैं जिसे देखकर उनके बच्चे भी झूठ बोलने लगते हैं इसलिए चाहिए कि सबसे पहले माता-पिता को इस आदत को छोड़ना होगा तभी जाकर आपके बच्चे भी झूठ बोलने की आदत छोड़ सकते हैं।

 दूसरी बात यदि आपका बच्चा झूठ बोलते हुए पकड़ा जाए तो उसे सजा के तौर पर एक्स्ट्रा काम करवाएं ताकि वह काम से तंग आकर दोबारा झूठ बोलने की कोशिश ना करें।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author