स्टार फिश के बारें में रोचक जानकारी दें? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Rahul Mehra

System Analyst (Wipro) | पोस्ट किया |


स्टार फिश के बारें में रोचक जानकारी दें?


0
0




Sales Manager... | पोस्ट किया


 स्टार फिश एक समुंद्री जीव है जिन्हें देख कर यही ख्याल आता है क्या वाकई समुद्र में इतने सुन्दर जीव भी होते हैं, तो चलिए हम आज आपको इससे जुड़ी कुछ ख़ास बातों की जानकारी देते है |


Letsdiskuss (courtesy-Fishkeeping World)


- स्टार फिश असल में फिश नहीं हैं इसलिए समुद्री वैज्ञानिकों ने इसका नाम बदलकर सी स्टार रख दिया है।

- मछली की तरह तैरना और गलफड़ों से सांस लेने जैसे कोई भी लक्षण सी स्टार में नहीं पाए जाते हैं।

- स्टार फिश के शरीर के पांच हिस्से होते हैं जो एक सेंट्रल डिस्क से जुड़े रहते हैं।

- सी स्टार अलग अलग रंगों और पैटर्न में पायी जाती है इसलिए इन्हें देखना बहुत अच्छा लगता है।

- आमतौर पर सभी सी स्टार की पांच भुजाएं होती हैं लेकिन कुछ प्रजातियों में भुजाओं की संख्या ज्यादा भी होती है जैसे सनस्टार प्रजाति में 40 भुजाएं होती हैं।

- सी स्टार में अपनी भुजा को रिजनरेट करने की क्षमता होती है यानी कभी शिकारी से अपना बचाव करने के दौरान अगर सी स्टार अपनी एक भुजा शरीर से अलग कर देती है तो कुछ समय में उसकी भुजा वापिस बन जाती है लेकिन इस प्रक्रिया में बहुत लम्बा समय भी लग सकता है |

- स्टार फिश के शरीर के निचले हिस्से में छोटे-छोटे ट्यूब फीट होते हैं जिनकी मदद से वो समुद्र के तल पर खिसक पाती हैं। ये ट्यूब फीट खाना ढूंढने में भी इन की मदद करते हैं।



0
0

| पोस्ट किया


स्टार फिश एक समुंद्री जीव है स्टार फिश मछलियां सभी महासागरों में पाई जाती हैं स्टार फिश मछली की प्रजातियां 2000 से भी अधिक पाई जाती है स्टार फिश मछली को तारा मछली भी कहते हैं। तो चलिए आज हम आपको स्टार फिश मछली के बारे में कुछ रोचक तथ्य बताते हैं।

1 स्टार फिश मछली हमें समुद्र की 6000 मीटर गहराई के अंदर तक मिल सकती हैं।

2 स्टार फिश मछलियां आसमान की स्टार की तरह दिखाई देती है इसलिए ये बहुत खूबसूरत लगती है।

3 इस मछली को जिव फिश के नाम से भी जाना जाता है मगर वैज्ञानिक लोग इसे मछली नहीं मानते हैं क्योंकि इस मछली में अन्य मछलियों की तरह पंख नहीं होते हैं और ना ही गलफड़ा होता हैं।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author