क्या यह सही है कि बेटियां अपने मां- पिता का अधिक ध्यान रखती हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Vikas joshi

Sales Executive in ICICI Bank | पोस्ट किया |


क्या यह सही है कि बेटियां अपने मां- पिता का अधिक ध्यान रखती हैं?


251
0




Lifestyle Expert | पोस्ट किया


अपने यहां अभी भी बेटी की बजाय बेटे का शौक लोगों को अधिक है। बावजूद इसके, कोई भी इस बात से इनकार नहीं कर सकता है कि बेटों की अपेक्षा बेटियां अपने मां- पिता का अधिक ध्यान रखती हैं। अब इसके पीछे का कारण चाहे जो भी हो, हम सब जानते हैं कि बेटियां हमेशा अपने परिवार को एक ही छत के नीचे देखना चाहती हैं। जब उनके मां- पिता बुजुर्ग हो जाते हैं तो वे उनके प्रति जिम्मेदार हो जाती हैं। कहा जाए तो वह उनकी मां बन जाती है।


शादी के पहले वह अपने मां- पिता के बारे में सोचती हैं आैर शादी के बाद अपने सास- ससुर का। इस लिहाज से उनके अंदर जिम्मेदारी की भावना कभी खत्म नहीं होती।

लड़कियों के अंदर कुछ ऐसे हार्मोन्स होते हैं, जो उनके स्वभाव को नम्र आैर संवेदनशील बनाते हैं। उनके अंदर लड़कों की बजाय रफनेस ना के बराबर होती है। बुजुर्ग होते- होते मां- पिता के अंदर बचपना वापस लौटने लगता है आैर बेटियों के अंदर मां वाले हार्मोन्स विकसित हो जाते हैं।

परंपरा आैर रीति- रिवाज की बात आती है तो लड़कियां इनका पालन करती हैं, लड़के कम ही करते हैं। मां- पिता की शादी की सालगिरह हो, भाई- बहनों का जन्मदिन या कोई आैर खास तारीख, बेटियां हमेशा याद करती हैं आैर बधाई देना नहीं भूलती हैं।

लड़कियां, खासकर बेटियां अच्छी श्रोता होती हैं। इसका कारण उनका अपने मां- पिता के साथ अधिक लगाव है। मां- पिता को कभी कोई भी समस्या होती है तो वे इसे अपने बेटी के साथ जरूर शेयर करते हैं।

लड़कियों को खरीदारी करना पसंद है तो वे अपनी मां के साथ खरीदारी करके अच्छी बॉन्डिंग बना लेती हैं। आज के समय में मां- बेटी का साथ में घूमना भी एक ट्रेंड बन गया है। इस लिहाज से भी मां आैर बेटी का साथ नए गोल्स देता है।

बेटी झगड़े के बीच ठंडी फुहार सा काम करती है। वह जानती है कि किस तरह सबके बीच के झगड़े का निपटारा करके शांति लाई जा सकती है।

बेटियां शादी के बाद भी अपने ससुराल आैर मायके के बीच संतुलन बनाना जानती हैं। वह कभी भी अपने पति के लिए अपने मां- पिता को नहीं छोड़ती हैं।

मां- पिता बेटियों को लेकर शुरुआत से ही ज्यादा सतर्क रहते हैं, उसे ज्यादा प्यार देते हैं। यह कारण भी हो सकता है कि एक बेटी अपने मां- पिता को अधिक प्यार करती है।

Letsdiskuss


304
0

Picture of the author