नेटफ्लिक्स और अमेज़ॅन भारतीय दर्शकों पर जीत के लिए संघर्ष कर रहे हैं - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


adhish verma

Sr. SEO Specialist | पोस्ट किया |


नेटफ्लिक्स और अमेज़ॅन भारतीय दर्शकों पर जीत के लिए संघर्ष कर रहे हैं


0
0




| पोस्ट किया


Letsdiskuss

एक ओवर-द-टॉप (ओटीटी) एप्लिकेशन कोई ऐप या सेवा है जो इंटरनेट पर पारम्परिक प्रसारण प्रणाली से इतर अपनी सर्विस प्रदान कराता है| शीर्ष पर आने वाली सेवाएं आमतौर पर मीडिया और संचार से संबंधित होती हैं और वितरण की पारंपरिक विधि की तुलना में कम लागत में होती हैं।  

वीडियो ओटीटी ऍप्लिकेशन्स के तौर पर दो बड़े नाम है -नेटफ्लिक्स और अमेज़ॉन प्राइम जो की भारत में साल 2016 में लॉन्च हुए जब रिलायंस जिओ ने भारत में नई इंटरनेट क्रांति को जन्म दिया था सस्ते दर पर तेज़ स्पीड वाले इंटरनेट को पहुँचाकर|

जहाँ अमेज़ॉन प्राइम प्रति साल 999 रुपये या 129 रुपये प्रति माह चार्ज करता है तो वहीँ नेटफ्लिक्स उससे कहीं अधिक 500 रुपये प्रति महीना चार्ज करता है हालाँकि अभी इस्तेमाल करने पर एक महीने का ट्रायल फ्री है| समाज के हर आय ,आयु ,भाषा आदि वर्ग को आकर्षित करने के लिए जहाँ नेटफ्लिक्स सेक्रेड गेम्स जैसा पोलिटिकल थ्रिलर लाता है तो उसे मात देने के लिए अमेज़ॉन प्राइम ने मिर्ज़ापुर नामक देसी वेब सीरीज को पेश किया है|

जहाँ नेटफ्लिक्स के शोज का दायरा बेहद बड़ा है लेकिन वह अंग्रेजी भाषा में ही उपलब्ध है तो वहीँ अमेज़ॉन प्राइम ताज़ा हिंदी फिल्मों की बदौलत अपने शोज की कम संख्या के साथ भी अधिक लोगों तक पहुंच पाया है| भारत में जहाँ अभी अमेज़ॉन प्राइम के 11 मिलियन यूज़र्स रहे तो वहीँ नेटफ्लिक्स के पास 5 मिलियन यूज़र्स ही हो पाए है|
मोबाइल और डीटीएच टीवी माध्यमों के ज़रिये दोनों कंपनियां लोगों को जोड़ने में लगी हुई है| नेटफ्लिक्स ने एयरटेल और टाटा स्काई के साथ साझेदारी की तो अमेज़ॉन प्राइम ने वोडाफोन और हैथवे के साथ संधि की है| दोनों में भारतीय दर्शकों के लिए जद्दोजेहद इसलिए भी है क्योंकि भारत में अभी भी केवल 30 प्रतिशत जनता ही इंटरनेट से जुड़ पाई है तो 150 + मिलियन यूज़र्स ओटीपी एप्प्स का इस्तेमाल करते है और इसके वीडियो कंटेंट मार्किट के 270 मिलियन के पार जाने का अनुमान है|
हालाँकि दर्शकों को लेकर इस संघर्ष के बीच अभी इन दोनों कंपनियों को सबसे बड़े ओटीपी ऐप हॉटस्टार को छूने में भी वक़्त लगेगा जिसके बाद टीवी चैनल्स से लेकर न्यूज़ चैनेलो तक का प्रसारण अधिकार मौजूद है अनेको भाषाओँ और वह भी 75 मिलियन यूज़र्स के साथ|


0
0

Picture of the author