Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Kandarp Dave

Blogger | पोस्ट किया |


गंजेपन के कारण और बचाव

1
0



मानव शरीर में कोइ भी ऐसा अंग नही जो बीना उपयोग का हो। बाल के बारे में यह कह सकते है की वो सुंदरता का प्रतिक है और इसीलिये औरत हो या मर्द अच्छे घने काले बाल हर किसीकी चाहत होते है। उम्र के साथ बाल झडते है जो की बढती हुइ उम्र का परीणाम होता है पर छोटी उम्र में बाल का झड जाना बीमारी और नादुरस्त शरीर दर्शाता है। इसीलिये बालो के झडने को बहुत ही गंभीरता से लेना जरुरी बन जाता है।

बालों के झड़ना जिससे इंसान गंजेपन का शिकार होने लगता है और समाज में शर्म भी महसूस करने लगता है| इस बीमारी से जुड़ी विस्तार से जानकारी इस प्रकार है|


गंजेपन के कारण:

इंसान के गंजे होने के मुख्य कई कारण हो सकते हैं जिसके कारण उम्र से पहले ही इंसान के बल झड़ने लगते हैं जैसे :-

मानसिक तनाव:- मानसिक तनाव के कारण अधिकतर लोगों की बाल झड़ने लगते हैं और वह धीरे धीरे गंजे होने लगते हैं| मानसिक तनाव के चलते शरीर में होर्मोन्स मे कई बदलाव आते है, जिस के परीणाम स्वरूप सबसे पहली असर बालो पे होती है।


प्रोटीन:- प्रोटीन बालों के लिए बहुत जरूरी है पर अगर इसकी मात्रा शरीर में कम हो जाती है तो व्यक्ति गंजा हो जाता है| प्रोटीन के अलावा और भी बहुत सारे मिनरल्स है जैसे की सल्फ़र, मेग्नेशियम आदी जिस की कमी के चलते बालो की सेहत खराब होती है। वे धीरे धीरे रुखे और बेजान हो हाते है और उन के मुल के कमजोर हो जाते ही वे झड जाते है।


संक्रमण :- गंजे होने का एक और विशेष कारण है संक्रमण का होना| सिर में किसी भी प्रकार संक्रमण अगर फैलता है तो इसका सीधा प्रभाव बालों पर पड़ने लगता है| परिणाम स्वरूप इंसान गंजेपन का शिकार हो जाता है| हालाकि इस मुश्किल के लिये दवाई का इस्तेमाल कर सकते है और इस से मुक्त होना संभव होता है।


बुरी आदतें :- कुछ लोगों के गंजे होने की वजह उनकी बुरी आदतें होती हैं जैसे व्यर्थ बैठकर बाल नोचना या खींचना आदि|

अधिक उम्र: गंजेपन का साधारण कारण है उम्र का बढ़ना| उम्र बढ़ने के साथ साथ इंसान के बाल भी झड़ने लगते हैं|

गंजेपन के कारण और बचाव सौजन्य: न्यूज़. स्काई.कॉम


गंजे होने के लक्षण


गंजे होने से पूर्व मनुष्य में कई लक्षण दिखने लगते हैं जैसे :-


बालों का झड़ना :- अधिक संख्या में अगर बाल झड़ते हैं तो यह लक्षण गंजेपन की ओर इशारा करता है| सर में अधिक खुजलि होना भी बाल झडने का एक लक्षण माना जाता है।


गोले और धब्बे :- सिर पर गोले और धब्बेदार निशानों का दिखाई देना भी गंजेपन का ही लक्षण है|


सौजन्य: न्यूज़.एटलस.कॉम


गंजेपन के लिए उपचार

जिस प्रकार आज आधुनिक युग में हर बीमारी का उपचार सम्भव है| ठीक उसी प्रकार गंजेपन का उपचार भी हो सकता है इसके लिए मरीज को कुछ दवाएं, सर्जरी, विग और हेयर पीस की सहायता लेनी पड़ेगी| एक सफल परिणाम प्राप्त करने के लिए इन सभी तरीकों को एक साथ इस्तेमाल किया जा सकता है| हेयर ट्रांसप्लांट की मदद से भी गंजेपन को दूर किया जा सकता है|


कुछ घरेलू नुस्खों से भी गंजेपन को दूर किया जा सकता है जैसे :-


पौष्टिक आहार:- गंजेपन जैसी बीमारी को दूर करने के लिए पौष्टिक का आहार सेवन करना चाहिए| जिससे बालों में पूर्ण रूप से विटामिन, प्रोटीन और कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाया जा सके|


मालिश :- आरंडी के तेल की मालिश गंजेपन को दूर करने में एक वरदान की तरह काम करती है|


आंवला :- अपनी दिनचर्या में अगर आंवला किसी भी रूप में खाने को मिले तो जरूर इसका सेवन करें| ऐसा करने से बालों की झड़ने की समस्या को आसानी से रोका जा सकता है |