कौन से ब्रांड हैं जो भारतीय लगते हैं लेकिन भारत में उत्पन्न नहीं हुए? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


shweta rajput

blogger | पोस्ट किया | शिक्षा


कौन से ब्रांड हैं जो भारतीय लगते हैं लेकिन भारत में उत्पन्न नहीं हुए?


0
0




Student | पोस्ट किया


  1.  कुछ ऐसे प्रोडक्ट के नाम जो लगते तो नाम से हमारे देश के, पर वह है विदेशी।
    1.  अगर बात जूते चप्पलों कि, की जाए तो बाटा हमारे देश में बहुत प्रसिद्ध है। पर शायद आपको यह जानकर हैरानी होगी कि बाटा स्विट्जरलैंड की कंपनी है जो साल 1894 मे बनी थी।
    2.  कोलगेट, एक ऐसा दंत मंजन जिसे भारत के लगभग हर दूसरे घर में इस्तेमाल किया जाता है। पर यह भी एक अमेरिकन कंपनी है।
    3.  इंडियन मोटरसाइकिलस, जिस ब्रांड के नाम में इंडियन है। पर इंडियन मोटरसाइकिल्स एक अमेरिकन ब्रांड है।
    4.  2 मिनट में तैयार होने वाली मेगी स्विट्जरलैंड का ब्रांड है।
    5.  लाइफबॉय साबुन बनाने वाली कम्पनी इंग्लैंड की कंपनी है।
    6.  कपड़े धोने वाला डिटर्जेंट टाइड एक अमेरिकन ब्रांड है और इस कंपनी को 1945 मे बनाया गया था।
    7.  भारतीय घरों के टेलीवीजन मे देखे जाने वाला स्टार टीवी एक अमेरिकन मल्टीनैशनल मास मीडिया कॉरपोरेशन है।
    8.  Boost का ads तो हर किसी ने टीवी में देखा है। परंतु यह कंपनी भी स्विट्जरलैंड की कंपनी है।Letsdiskuss


0
0

Youtuber | पोस्ट किया


बहुत सारे ब्रांड जिन्हे भारत में काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है, और इन्ही ब्रांड के प्रभाव के कारण हम इन्हें अक्सर भारतीय ब्रांड ही समझ लेते हैं जो की सच नही है।


 कोलगेट एक ऐसा ब्रांड है जिसे हमारे देश में कई सालों से लोग इस्तेमाल करते है और जिसे अक्सर लोग भारतीय कंपनी ही समझ लेते हैं लेकिन यह सच नहीं है कोलगेट एक अमेरिकन ब्रांड है।


 इसके अलावा भारत में बाटा के जूते और चप्पल ज्यादातर लोग पहनना पसंद करते हैं लेकिन मैं आपको बता देना चाहता हूं की बाटा कंपनी स्विट्ज़रलैंड कंपनी है।


 जिस नाम में इंडियन लगा हो वह भला इंडियन क्यों ना हो लेकिन इंडियन मोटरसाइकिल जोकि इंडियन ब्रांड ना होकर एक अमेरिकन ब्रांड है और यह ब्रांड अमेरिका में एक चर्चित ब्रांड है।


 इसके अलावा नोकिया कंपनी के मोबाइल फोंस आजकल हर कोई खरीदना पसंद करता है और अक्सर ज्यादातर  लोग नोकिया को भारतीय ब्रांड मान लेते हैं लेकिन यह सच नहीं है नोकिया फिनलैंड की एक कंपनी है।


 उसी प्रकार मैंगी जोकि स्विट्जरलैंड का एक ब्रांड है और अक्सर भारत में ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला साबुन लाइफब्वॉय इंग्लैंड का ब्रांड है, इसके अलावा  सैमसंग दक्षिण कोरिया का एक ब्रांड है।

 टाइड डिटेर्जेन्ट जिसे आज के समय में ज्यादातर भारतीय महिलाएं  इस्तेमाल करती है  यह ब्रांड भी भारत का ना होकर एक अमेरिकन ब्रांड है।Letsdiskuss








0
0

blogger | पोस्ट किया


क्या आप कहेंगे कि अगर मैं कहूं कि सर्फ एक्सेल की उत्पत्ति पाकिस्तान में हुई है?
हां सर्फ एक्सेल पाकिस्तान और बाद में भारत का पहला डिटर्जेंट पाउडर है। यह बार साबुन के प्रतिस्थापन के रूप में शुरू किया गया था, अंधाधुंध रूप से गृहिणियों द्वारा उपयोग किया जाता था।
उत्पाद को शुरू में पाकिस्तान में 1948 में और फिर 1959 में भारत में लॉन्च किया गया था। इसे सर्फ के नाम से जाना जाता था और बाद में 1996 में इसका नाम बदलकर सर्फ एक्सेल कर दिया गया।
उत्पाद का नाम वर्तमान में पूरे देश में डिटर्जेंट पाउडर शब्द की जगह ले रहा है।
यह राष्ट्र के डिटर्जेंट पाउडर का सबसे पुराना ब्रांड है और इसने सदियों पुरानी कहावत को स्थापित किया, 'ओल्ड इज गोल्ड'।
कई और हैं जो आप किसी को याद कर सकते हैं?
Letsdiskuss google pic 


0
0

Picture of the author