शरीर में किन चीज़ों की कमी के कारण बाल झड़ते है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Ruchika Dutta

Teacher | पोस्ट किया |


शरीर में किन चीज़ों की कमी के कारण बाल झड़ते है?


0
0




Makeup artist,We MeGood | पोस्ट किया


मानव जीवन में बदलती जीवनशैली के कारण कई चीज़ों में बदलाव आए हैं | मनुष्य अपने बालों के साथ खुद से ही कई सारी परेशानियां बना लेता है | आज कल बाजार में मिलने वाले कई हानिकारक प्रोडक्ट का प्रयोग कर के मनुष्य अपने बालों का सत्यानाश करने पर लगा हुआ है | फैशन के चलते वह अपने बालों में कई तरह के केमिकल वाले रंगों का प्रयोग करते हैं जिसके कारण बालों का रंग तो बदल जाता है पर बालों में कई हानिकारक प्रभाव हो जाते हैं | ये तो थी बालों को खुद से बर्बाद करने की प्रक्रिया पर अब देखते हैं कि मानव शरीर में किन कमियों के कारण बाल झड़ते हैं |


1. विटमिन की कमी :-
मनुष्य के शरीर में विटामिन बी की कमी के कारण बाल बहुत झड़ते हैं | शरीर में विटमिन बी की कमी से परनीशियस एनीमिया होने की सम्भावना होती है, जो की बालों सिर्फ कमजोर ही नहीं बल्कि उनका रंग सफ़ेद भी करती है |

2. जि़ंक की कमी :-
शरीर में हड्डि, त्वचा व स्कैल्प को स्वस्थ बनायें रखने के लिए सबसे जरुरी होता है कि आप संतुलित आहार लें | अगर खाने में संतुलित न्यूट्रिशनल नहीं मिलता और उससे जिंक की कमी होती है जिसके कारण बाल समय से पहले ही सफेद होने लगते हैं |

Letsdiskuss (Courtesy : hindustantimes )

3. थायरॉयड :-
जिस को थायरॉयड, हाइपोथायरॉयडिज्म व हाइपरथायरॉयडिज्म का रोग होता है उनके बाल अक्सर झड़ते हैं | इतना ही नहीं उनके बालों का रंग भी कम होने होने लगता है |

4. फंगल इन्फेक्शन  :-
बालों की जड़ों में कुछ इन्फेक्शन होने के कारण बाल समय से पहले सफेद होने लगते हैं, और साथ ही बालों की जड़ें कमजोर होने लगती हैं, जिसके करना बाल झड़ते हैं |

5. एनीमिया :-
जिनको एनीमिया की शिकायत होती है उनके शरीर के कई हिस्सों में भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुँच पाता जिसके कारण बालों में भी कमजोरी आती है और बाल झड़ते हैं |

6. तनाव :-
वर्तमान समय में बालों का टूटना और उसका सफ़ेद होने यह सब तनाव के कारण होता है | आज कल लोग जितना तनाव में होते हैं उसका कहीं न कहीं असर उसके बालों में होता है |

(Courtesy : Punjab Kesari )



0
0

Picture of the author