संज्ञा किस कहते है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Rinki Pandey

| पोस्ट किया | शिक्षा


संज्ञा किस कहते है?


14
0




| पोस्ट किया


संज्ञा किसे कहते हैं इसे जानना स्कूल की किताबों से बेहतर यहां पर हम बता रहे हैं। संज्ञा का मतलब होता है किसी का नाम, जैसे - सोहन बादाम खाकर स्कूल जाता है.

इस वाक्य में नाम वाले कौन कौन से शब्द इस्तेमाल हुए हैं उनको आप खोज लेंगे तो जान जाएंगे कि यह संज्ञा है। तो आप जानते हैं कि सोहन एक लड़के का नाम है बादाम खाने वाली वस्तु का नाम है और स्कूल एक जगह जहां पढ़ा जाता है इस तरह से आप जान गए कि सोहन बादाम स्कूल यह संज्ञा है। जो काम होता हुआ दिखता है वह किया है जैसे इसमें दो शब्द किया है-जाता है.

Letsdiskuss


8
0


दोस्तों इस पोस्ट हम आपको बताएंगे की संज्ञा किसे कहते है संज्ञा हिंदी व्याकरण का अति महत्वपूर्ण भाग है क्योंकि हिंदी व्याकरण में संज्ञा एक अहम भूमिका निभाती है संज्ञा का अर्थ नाम होता है संज्ञा एक विकारी शब्द है। किसी व्यक्ति,जाति, वस्तु,प्राणी,गुण, भाव, या स्थान के नाम को संज्ञा कहते हैं क्योंकि संज्ञा किसी भी व्यक्ति वस्तु, प्राणी, गुण या स्थान के नाम को दर्शाती है। संज्ञा के पांच प्रकार होते हैं -
• व्यक्तिवाचक संज्ञा।
•जातिवाचक संज्ञा।
• भाववाचक संज्ञा।
• समूहवाचक संज्ञा।
• द्रव्यवाचक संज्ञा।

Letsdiskuss


7
0

prity singh | पोस्ट किया


किसी भी व्यक्ति वस्तु स्थान भाव किसी प्राणी के नाम वह दर्शाने वाली शब्द संज्ञा कहलाती है संज्ञा एक विकारी शब्द है संज्ञा का अर्थ नाम होता है क्योंकि संज्ञा व्यक्ति वस्तु स्थान गुण भाव के नाम को दर्शाती है वस्तु स्थान भाव के लिए नहीं किया जाता है संज्ञा का उपयोग वस्तु स्थान गुण भाव उनके नाम के लिए किया जाता है जैसे राम जाता है तो राम नामक व्यक्ति संज्ञा नहीं है इसमें उस व्यक्ति का नाम राम संज्ञा हैLetsdiskuss


7
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


हिंदी हमारी मातृभाषा होती है जिसमें हमारे हिंदी जगत में व्याकरण और भाषाओं को बहुत ही अधिक महत्व दिया जाता है। जिसमें संज्ञा की परिभाषा कुछ इस प्रकार है - किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, जाति के नाम को दर्शाने वाले शब्द को संज्ञा कहा जाता है। जैसे - राम, टेबल, मंदिर आदि।

संज्ञा के पांच भेद होते हैं- व्यक्तिवाचक संज्ञा भाववाचक संज्ञा ,जातिवाचक संज्ञा , समुच्चय वाचक संज्ञा , द्रव्यवाचक संज्ञा।Letsdiskuss


7
0

| पोस्ट किया


संज्ञा : किसी भी व्यक्ति, वास्तु, प्राणी के नाम को दर्शाने वाले शब्द को संज्ञा कहते हैं। संज्ञा एक विकारी शब्द है संज्ञा का अर्थ नाम होता है क्योंकि संज्ञा व्यक्ति वस्तु स्थान गुण भाव के नाम को दर्शाती है। वस्तु इस्थान भाव के लिए नहीं किया जाता है।

जैसे राम जाता है तो राम नामक व्यक्ति संज्ञा नही है।

संज्ञा के पांच भेद होते हैं-

(1) व्यक्तिवाचक संज्ञा

(2) जातिवाचक संज्ञा

(3) भाववाचक संज्ञा

(4) समूहवाचक संज्ञा

(5) द्रव्यवाचक संज्ञाLetsdiskuss


7
0

| पोस्ट किया


हम बचपन से लेकर आज तक संज्ञा की परिभाषा पढ़ते आ रहे हैं तो चलिए आज हम आपको संज्ञा की परिभाषा और उसके भेद के बारे में बताते हैं।

संज्ञा की परिभाषा :- किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, भाव आदि के नाम को संज्ञा कहते हैं या फिर सामान्य भाषा में संज्ञा का सामान्य अर्थ होता है किसी का नाम जैसे कि, मोहन, सोहन, कनक आदि।

संज्ञा के पांच भेद होते हैं

पहला भेद है व्यक्तिवाचक संज्ञा

दूसरा भेद है जातिवाचक संज्ञा

तीसरा भेद है भाववाचक संज्ञा

चौथा भेद है द्रव्यवाचक संज्ञा

पांचवा भेद है समूहवाचक संज्ञा।Letsdiskuss


6
0

');