इंसान को कौन-कौन सी बातें गोपनीय रखनी चाहिए? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


A

Anonymous

| पोस्ट किया |


इंसान को कौन-कौन सी बातें गोपनीय रखनी चाहिए?


0
0




Occupation | पोस्ट किया


इंसान को हमेशा अपने जीवन से जुडी बहुत सी बातो को गोपनीय रखना चाहिए, चाहे वह कितना भी अच्छा मित्र क्यों ना हो आपको उससे अपने अंदर की गोपनीय बातो को कभी शेयर नहीं करना चाहिए। क्योंकि कब वो आपका दोस्त से दुश्मन बन जाये ये बात कोई नहीं जनता है क्योंकि अक्सर लोग कहते है कि जो हमारे दिल के करीब होता है वही हमारा दुश्मन होता है। इसलिए दोस्ती सबसे रखे लेकिन अपने घर परिवार की गोपनीय बाते किसी के साथ शेयर जानबूझ कभी ना करे इन बातो का खास कर ख्याल रखे।Letsdiskuss


0
0

blogger | पोस्ट किया


मूल रूप से समस्याओं से बचने के लिए रहस्य के रूप में रखने के लिए चीजों की सूची यहां दी गई है->

कमजोरी:- हर व्यक्ति में कोई न कोई कमजोर बिंदु होता है और अक्सर यह कमजोर बिंदु विभिन्न कारणों से लोगों को उदास कर देता है…..इस प्रकार कभी-कभी हम अपनी समस्याओं से खुद को उतारने की कोशिश करते हैं किसी करीबी व्यक्ति के साथ साझा करने का प्रयास करते हैं जो कि हमारी सबसे बड़ी गलती है क्योंकि हम कभी नहीं जानते हैं जब समय आपकी बारी लेता है और आपका करीबी दुश्मन बन जाता है और जैसा कि आप पहले समस्या को साझा करते हैं, तो वे इसका फायदा उठा सकते हैं, इस प्रकार आपको नुकसान हो सकता है। इसलिए कभी भी अपनी समस्या किसी को न बताएं, अपने आप को हल करने का प्रयास करें ... मजबूत बनें


आपके अंतरतम विचार

कुछ विषयों के बारे में आपका विश्वास आपकी विश्वास प्रणाली के रूप में रहना चाहिए, लेकिन ऐसा कुछ नहीं जिसे आप दूसरों में शामिल करने का प्रयास करते हैं। उदाहरण के लिए, जीवन या मृत्यु के बारे में आपके विचार विविध प्रतिक्रियाएं ला सकते हैं जब आप उन्हें चर्चा के विषय के रूप में चुनते हैं। यह समझना सीखें कि आपके विचार आपकी व्याख्या हैं न कि वस्तुनिष्ठ सत्य। यह रुख आपको तर्क-वितर्क से बचा सकता है।


जीवन में आपका लक्ष्य:- आपकी योजनाओं को पूरी लगन के साथ तब तक सुरक्षित रखना चाहिए जब तक आप उन्हें प्राप्त करने में सक्षम नहीं हो जाते। आपकी योजनाओं को मुखर करने से अन्य लोग आपके विचारों को चुरा सकते हैं और उन पर काम कर सकते हैं, उन खामियों से निपटने के लिए जिन पर आपने ध्यान नहीं दिया होगा। इस तरह का मनोबल गिराने वाला अनुभव आपको पछताएगा कि आपने अपनी योजनाओं के बारे में किसी को भी बता दिया है, इसलिए उन्हें गुप्त रखें। उन्हें सुरक्षित रखें


आपका परोपकार

किसी व्यक्ति या धर्मार्थ कार्य में मदद करने से व्यक्तियों और हमारे समाज का विकास बेहतर होता है, लेकिन यह तब अधिक मूल्यवान होता है जब आप ऐसे परोपकार के लिए मान्यता की तलाश नहीं करते हैं। जब आप यह प्रचारित करने का प्रयास करते हैं कि आप कैसे मददगार रहे हैं, तो यह आमतौर पर शेखी बघारने जैसा लगता है। लोग सोच सकते हैं कि इस तरह के समर्थन के लिए आपका इरादा लोकप्रियता हासिल करना था। गुमनाम रहते हुए लोगों के लिए मूल्य जोड़ने का गुण है।

 

आपके परिवार की गंदी लॉन्ड्री

अपने परिवार के भीतर संघर्ष की कहानियों को दूसरों तक पहुँचाना अपमानजनक और नासमझी है। यह आपको एक व्यक्ति के रूप में अवमूल्यन करता है और आपके परिवार के लिए उपहास ला सकता है। अक्सर, ऐसी कहानियाँ तब तक प्रसारित की जाती हैं, जब तक कि सच्ची कहानी पूरी तरह से बदल नहीं जाती। घर की समस्याओं का समाधान घर में ही सबसे अच्छा होता है; पारिवारिक मुद्दों को अपने घर और प्रियजनों के दायरे में रखें। हमेशा याद रखें कि आप जिस स्थिति का सामना कर रहे हैं, कई पहले से ही सामना कर रहे हैं … आप समस्या का सामना करने वाले अकेले नहीं हैं …

 

Letsdiskuss

 

 


0
0

| पोस्ट किया


हमें अपने जीवन से जुड़ी कुछ ऐसी बातों को गोपनीय रखनी चाहिए जैसे कि हम अगर किसी भी चीज की मन्नत मांगते हैं तो उसे गोपनीय रखनी चाहिए चाहे वह मित्र हो या घर के सदस्य किसी को भी नहीं बतानी चाहिए। अपने घर से जुड़ी  कुछ गोपनीय बातों को भी अपने मित्रों से भी नहीं बताना चाहिए। अगर आपके अंदर किसी बात की  कोई कमजोरी है तो आप उस कमजोरी को अपने किसी भी सगे संबंधी या मित्रों से ना बताएं क्योंकि आपकी कमजोरी जाने के बाद लोग आप का गलत फायदा भी उठा सकते हैं। और यदि आपके अंदर कोई खुशी है तो उसे धीरे-धीरे बाहर लाएं अगर आप एकदम से उस खुशी को दिखाएंगे तो आपको नजर भी लग सकती है।Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


व्यक्ति को अक्सर अपनी समस्या ही बहुत बड़ी लगती है। फिर भी उन्हें कई बातें गोपनीय रखनी चाहिए, उसे कभी किसी को नहीं बताना चाहिए। कब कौन किसका दुश्मन बन जाए पता नहीं चलता, अपनी आय, जमा पूंजी, आधार कार्ड, कई ऐसी बहुत सी बातें ऑफिशियल होती है। जिन्हें हमें जगह, स्थान, व्यक्ति देख कर बताना चाहिए वरना गोपनीय ही रखें। सोच समझकर बताएं। जो दोस्त रहते हैं वही दुश्मन कब बन जाते हैं पता ही नहीं चलता।

कौन सी बातें गोपनीय रखनी चाहिए, कौन सी बातें गोपनीय नहीं रखनी चाहिए यह व्यक्ति के स्वभाव के ऊपर निर्भर करता है।

यहां पर कुछ सुझाव दिए हैः-

  • कभी-कभी हम बिना सोचे समझे बकबक करते हैं, ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि जो कार्य हम करना चाहते हैं वह बता देने से उस कार्य की पूर्णता होने की संभावना कम हो जाती है। इंपॉर्टेंट कार्य है तो पूर्ण होने तक गोपनीय रखना बेहतर है।
  • हमारे स्वयं के प्रॉब्लम को सार्वजनिक नहीं करना चाहिए क्योंकि यह मजाक का विषय बन सकता है।
  • बहुत अधिक खुशी है तो भी उसे धीरे-धीरे बाहर लाएं नजर लगे, या अधिक खुशी से हार्ट अटैक हो जाए। इसका भी ध्यान रखना है।
  • अगर आपने कोई दीक्षा ली है उसके द्वारा कोई गुरु मंत्र प्राप्त हुआ है। उसे अवश्य गोपनीय रखें।
  • आप कोई मन्नत मांगे हैं जिसके लिए आप तप, ध्यान, उपवास आदि कर रहे हैं तो उसका फल मिलने तक गोपनीय रखे नहीं तो वह निष्फल हो जाएगा।
  • अपकी बीमारी जिसे आप नहीं बताना चाहते और स्वंय ही डॉक्टर की मदद से अपना इलाज करवा रहे हैं तो ठीक होने तक धैर्य रखें।
  • आप पर भरोसा करके जब कोई बात बताई जाती है तो उसे अपने तक ही रखना है।
  • हमेशा इधर की बात उधर-उधर की इधर ना करें इसमें स्वयं का ही नुकसान होता है वहां उतना ही बात बताएं जितनी आवश्यकता है बाकी सब गोपनीय रखे।
  • घर, परिवार, रिश्तेदारों की बातें छोटे-मोटे लड़ाई-झगड़े जिसमें अविश्वास बड़े ऐसी बातों को ना करें गोपनीय रखें। Letsdiskuss


0
0

Picture of the author