दुनिया के सबसे पहले विमान ने कब उड़ान भरी थी और उसका कितना किराया था ? - Letsdiskuss
img
Download LetsDiskuss App

It's Free

LOGO
गेलरी
प्रश्न पूछे

अज्ञात

पोस्ट किया 18 Jan, 2020 |

दुनिया के सबसे पहले विमान ने कब उड़ान भरी थी और उसका कितना किराया था ?

Vivan Vatena

student in journalism | पोस्ट किया 06 Feb, 2020

8 फ़रवरी 2010 को 747-8 मालवाही ने अपनी पहली उड़ान भरी.

Henry Hoe

E-commerce Trainer | पोस्ट किया 20 Jan, 2020

विमान यात्रा आज के समय में आम बात हो गई है। लेकिन एक वक्त था जब लोगों ने सोचा भी नहीं था कि वो कभी ऐसी किसी चीज में सवार होकर हवा में उड़ान भर सकेंगे। क्या आप जानते हैं दुनिया के पहले यात्री विमान ने पहली बार कब उड़ान भरी थी? आम लोगों ने पहली बार हवाईजहाज का सफर कब किया था? उस विमान को उड़ाने वाला पायलट कौन था? उसमें सफर करने के लिए लोगों ने कितना किराया दिया था? वह उड़ान किन दो शहरों के बीच थी? आगे की स्लाइड्स में हम आपको ऐसे सभी सवालों के जवाब दे रहे हैं।

Ruchika Dutta

Teacher | पोस्ट किया 18 Jan, 2020

वर्तमान समय में विमान में बैठना एक आम बात हो गई है । आय दिन लोग विमान पर बैठ कर कई घंटों का सफर कम समय में पूरा कर लेते हैं और इतना ही नहीं दूर जाने के लिए जहां कई दिन लग जाते थे वहाँ पर सिर्फ कुछ ही घंटों में व्यक्ति पहुँच जाते हैं । विदेशों तक यात्रा अब विमान के माध्यम से संभव है । परन्तु पहले ऐसा नहीं था, पहले लोग यह सोचते थे कि क्या हम कभी आसमान का सफर कर पाएंगे ? क्या ऐसी कोई चीज़ बनेगी जो हमें आसमान की ऊंचाई देखेगी ? देखिये न आज ये संभव है , आज लोग विमान पर बैठ कर आरामदायक यात्रा करते हैं ।


(इमेज - गूगल)


आज हम आपको बताते हैं कि दुनिया के सबसे पहले विमान ने कब उड़ान भरी और इसका किराया कितना था ।


आज से ठीक लगभग 106 साल पहले 1 जनवरी 1914 को दुनिया के सबसे पहले विमान ने उड़ान भरी थी। आपको बता दें यह यात्री विमान था जिसने अमेरिका के फ्लोरिडा में दो शहरों के बीच उड़ान भरी। सेंट पीटर्सबर्ग और टाम्पा यह दो शहर जिनके बीच यात्रा हुई और दोनों शहरों के बीच की लगभग 34 किलोमीटर की हवाई यात्रा तय हुई थी जिसमें 23 मिनिट का समय लगा था ।


इस विमान को 'फ्लाइंग बोट' कहा गया जिसको सेंट लुई के थॉमस बेनवा (Thomas Benoist) ने डिजाइन किया । इस विमान को उड़ाने वाले पायलट का नाम टोनी जेनस (Tony Jannus) था । वैसे तो टोनी जेनस एक अनुभवी पायलट थे, परन्तु यात्री विमान उन्होंने पहली बार ही उड़ाया था । परन्तु यह उनका एक सफल प्रयास रहा ।


फ्लाइंग बोट विमान का वजन लगभग 567 किलोग्राम था, इसकी लंबाई 8 मीटर (26 फीट) और चौड़ाई 13 मीटर (44 फीट) थी।इस यात्रा विमान में पायलट के साथ एक और यात्री बैठ सकता था । इसमें लकड़ी की सीट का प्रयोग किया गया जिससे पायलट और यात्री दोनों अलग बैठ सकें ।


जैसा कि यह पहला यात्री विमान था और इसमें सिर्फ एक ही यात्री के बैठने की जगह थी, इसलिए इसमें यात्रा करने के लिए इसकी टिकट नीलाम हुई थी । इसके टिकट की नीलामी में 3 हज़ार लोग पहुंचे थे फिर इस का टिकट फील नाम के एक व्यक्ति ने खरीदा जो एक वेयरहाउस बिजनेस में था। उस वक़्त इस टिकट की कीमत 400 डॉलर में नीलाम हुई ।


पहले इस विमान की टिकिट नीलाम हुई परन्तु बाद में इसका किराया 5 डॉलर निर्धारति किया गया और उसके बाद हफ्ते में 6 दिन यह विमान प्रतिदिन 2 बार उड़ान भरता था । इस विमान के दूसरे पायलट टोनी जेनस के भाई रोजर जेनस थे । चार महीने के नाद यह विमान की सेवन बंद कर दी गई परन्तु इन चार महीनों में इस विमान ने लगभग 1,205 को सेवा प्रदान की ।


यह थी दुनिया के पहले विमान की बात जिसने दुनिया को आसामन की सैर करवाई और कई यात्रियों को सफल और लाभदायक सेवा प्रदान की ।