वर्ण विचार किसे कहते हैं, और हिंदी व्याकरण में इसका क्या योगदान है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Komal Verma

Media specialist | पोस्ट किया | शिक्षा


वर्ण विचार किसे कहते हैं, और हिंदी व्याकरण में इसका क्या योगदान है ?


0
0




Teacher | पोस्ट किया


हिंदी भाषा में वर्ण विचार बहुत ही महत्व रखता है । हिंदी व्याकरण तीन भागों में बांटा गया है, वर्ण विचार , शब्द विचार और वाक्य विचार । व्याकरण के आधार पर वर्ण विचार सबसे पहला भाग है । वर्ण हिंदी भाषा की सबसे छोटी इकाई है, जिसको तोड़ कर प्रयोग नहीं किया जा सकता । हिंदी भाषा में कुछ 52 वर्ण होते हैं ।


वर्ण के मुख्य दो भाग होते हैं :-
- स्वर
- व्यंजन

स्वर :-
ऐसे वर्ण जिनका उच्चारण स्वतंत्र होता है, वे वर्ण स्वर कहलाते हैं। हिन्दी भाषा में 11 स्वर होते हैं।

उदाहरण :- वे इस प्रकार हैं: अ, आ ,इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ

व्यंजन :-
व्यंजन ऐसे शब्द होते हैं जिनके कहने के लिए किसी और शब्द की जरूरत पड़ती है, उसको अकेले नहीं कहा जा सकता | वर्णमाला में कुल 33 व्यंजन हैं।

उदाहरण :- जैसे: क, च, त, ट, प आदि।

Letsdiskuss (Courtesy : The Indian Wire )



0
0

Picture of the author