एयरपोर्ट के रनवे पर जेब्रा क्रोसिंग लाइन क्यु बनाई जाती हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


komal Solanki

Blogger | पोस्ट किया | शिक्षा


एयरपोर्ट के रनवे पर जेब्रा क्रोसिंग लाइन क्यु बनाई जाती हैं?


0
0




| पोस्ट किया


विमानन क्षेत्र में सुरक्षा सर्वोपरि महत्व रखती है। एयरपोर्ट के रनवे पर जेब्रा क्रॉसिंग लाइन लगाने का मुख्य उद्देश्य विमानों की सुरक्षित उड़ान और उतरान को सुनिश्चित करना है। ये लाइनें न केवल उड़ानों को नियंत्रित करती हैं, बल्कि रनवे पर गतिविधियों का प्रबंधन भी करती हैं। इन लाइनों के महत्व और उनके उपयोग के बारे में विस्तार से जानने से पहले, आइए जेब्रा क्रॉसिंग लाइन की परिभाषा समझते हैं।

 

Letsdiskuss

 

जेब्रा क्रॉसिंग लाइन क्या है?

जेब्रा क्रॉसिंग लाइन रनवे पर बनी लंबी, सफेद और काली पट्टियों की एक श्रृंखला है। ये पट्टियां आकार और आकृति में बराबर होती हैं। इनका नाम 'जेब्रा' इसलिए पड़ा क्योंकि ये एक जेब्रा के बदन पर मौजूद धारियों की तरह दिखती हैं। ये लाइनें विमान के पायलट और एयरपोर्ट के नियंत्रकों के लिए महत्वपूर्ण संकेत प्रदान करती हैं।

 

जेब्रा क्रॉसिंग लाइनों के उद्देश्य

रनवे पर जेब्रा क्रॉसिंग लाइनों के निम्नलिखित उद्देश्य हैं:

  1. पायलटों को रनवे की शुरुआत और अंत की पहचान कराना
  2. विमानों के लिए लैंडिंग जोन निर्धारित करना
  3. विमानों के लिए उड़ान भरने का क्षेत्र निर्धारित करना
  4. रनवे पर अन्य गतिविधियों जैसे रखरखाव और निरीक्षण के लिए सुरक्षित क्षेत्र प्रदान करना
  5. पायलटों को रनवे की लंबाई का पता लगाने में मदद करना

एयरपोर्ट के रनवे पर जेब्रा क्रोसिंग लाइन क्यु बनाई जाती हैं?

 

जेब्रा क्रॉसिंग लाइनों के प्रकार

एयरपोर्ट के रनवे पर कुछ प्रकार की जेब्रा क्रॉसिंग लाइनें लगाई जाती हैं:

  1. थ्रेशोल्ड लाइनें  :- ये लाइनें रनवे के शुरुआती बिंदु पर बनाई जाती हैं। इनका उद्देश्य पायलटों को यह बताना होता है कि वे रनवे के किस हिस्से पर हैं।

  2. टच-डाउन जोन मार्किंग :- यह रनवे पर एक निश्चित क्षेत्र है जहां विमानों को उतरना चाहिए। टच-डाउन जोन जेब्रा लाइनों से चिह्नित किया जाता है ताकि पायलट इस सीमा में रहकर उतरें।

  3. रनवे सेंटरलाइन  :- यह लाइन रनवे के बीचोबीच बनाई जाती है। इसका उद्देश्य विमानों को सीधी दिशा में उड़ान भरने और लैंड करने में मदद करना होता है।

  4. ऐमिंग पॉइंट मार्कर :- ये रनवे के अंत में बनी लाइनें होती हैं जो पायलटों को उड़ान भरने का सटीक बिंदु बताती हैं।

  5. डिस्पर्ल पीरियड मार्किंग्स :- यह रनवे के अंत में लगी पट्टियों की एक श्रृंखला है जो विमान की गति को कम करने में मदद करती है।

 

जेब्रा लाइनों की आवश्यकता

विमान सुरक्षा के लिए जेब्रा लाइनें बेहद जरूरी हैं क्योंकि:

 

- ये पायलटों को दिशा और दूरियों का सटीक अनुमान लगाने में मदद करती हैं।

- ये रनवे के विभिन्न क्षेत्रों की पहचान कराती हैं जिससे गलतियों की संभावना कम होती है।

- जब दृश्यता कम होती है तो ये लाइनें पायलटों के लिए मार्गदर्शक की तरह काम करती हैं।

- ये विमानों के बीच दूरी बनाए रखने में मदद करती हैं।

- ये रनवे पर अन्य गतिविधियों को नियंत्रित करती हैं।

 

एयरपोर्ट के रनवे पर जेब्रा क्रोसिंग लाइन क्यु बनाई जाती हैं?

 

नियमन और मानक

विमानन क्षेत्र में सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए रनवे की मार्किंग्स को लेकर कई नियम और मानक हैं। इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गनाइजेशन (ICAO) और फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (FAA) जैसे नियामक निकाय रनवे जेब्रा लाइनों की मात्रा, आकार, रंग और मानकों को तय करते हैं। इनका उद्देश्य विश्व स्तर पर उच्च सुरक्षा मानकों को बनाए रखना है। 

 

हालांकि जेब्रा लाइनों के महत्व को नकारा नहीं जा सकता है, लेकिन वास्तव में उनकी भूमिका अन्य उपकरणों और प्रणालियों द्वारा समर्थित की जाती है। उदा

 

 


0
0

');