योग हमारे लिए क्यों फायदेमंद है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


asif khan

student | पोस्ट किया |


योग हमारे लिए क्यों फायदेमंद है?


0
0




Occupation | पोस्ट किया


योगा करने से हमारी सेहत अच्छी रहती है, साथ ही हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

योगा करने से शरीर की मांसपेशीयाँ मजबूत रहती है। साथ बढ़ती उम्र के साथ बुजुर्गो के घुटने मे दर्द होने लगता है तो ऐसे मे उनको रोज सुबह योगा करना चाहिए, क्योंकि योगा करने से हड्डियों मे मजबूती आती है। योगा करने से शरीर तंदुरुस्त रहता है साथ ही बॉडी भी मजबूत रहती है, हमारे शरीर का आलसपन दूर हो जाता है। साथ जिन लोगो को नीद नहीं आती उनको खासकर योगा करना चाहिए क्योंकि लोगो का कहना है कि थके रहते है तो नीद अच्छी आती है इसलिए योगा करने से शरीर स्वाथ्य रहेगा और नीद अच्छी आएगी। जिन व्यक्तियों को ब्लड शुगर की समस्या होती है वह योगा करे क्योंकि योगा करने से ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल होता है।

 

Letsdiskuss

 


0
0

Student | पोस्ट किया


आजकल प्रतिदिन की व्यस्त दिनचर्या में मानव इतना व्यस्त हो गया कि उसके पास खुद के लिए ही समय नहीं है। खुद को समय ना देने के कारण मानव के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य में भी प्रभाव पड़ा है। ऐसे में प्रतिदिन योग करना मानव स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक है। योग करने के अनेकों शारीरिक और मानसिक लाभ है। योग करने से हमारा शारीरिक स्वास्थ्य अच्छा रहता है साथ ही हम मानसिक तनाव से भी मुक्त रहते हैं।  एक स्वस्थ शरीर व तनाव मुक्त  जीवन पाने के लिए योग सभी लोगों को करना चाहिए।

Letsdiskuss






0
0

| पोस्ट किया


योग हमारे दैनिक जीवन के लिए बहुत जरूरी है। योग करने से  मन में शांति बनी रहती है। और इससे शरीर स्वस्थ रहता है। यह तो हर कोई चाहता है कि हमारा जीवन सुख में बीते इसीलिए हमें रोजाना योग करना चाहिए। योग करने से हड्डियां मजबूत बनी रहती हैं शरीर में लचीलापन रहता है। योग करने से बुढ़ापा जल्दी नहीं आता। योग करने से भूख लगती  पाचन तंत्र में सुधार आता है। योग करने से मानसिक तनाव दूर होता है। जिन लोगों को नींद नहीं आती है योग एक सबसे अच्छा उपाय है  योग करने से अच्छी नींद आती है और नींद आने के लिए शरीर थका होना चाहिए इसलिए हमें योग करना चाहिए। बहुत सारे योगासन होते हैं। जिन्हें हम रोजाना करते हैं।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author