बच्चो में बचपन से ही किताबें पढ़ने की आदतें कैसे डालें ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Ramesh Kumar

Marketing Manager | पोस्ट किया | शिक्षा


बच्चो में बचपन से ही किताबें पढ़ने की आदतें कैसे डालें ?


0
0





आजकल ऐसे कितने ही युवा हैं जो हर समय अपने साथ किताबें लिए घूमते हैं, पढ़ते है व ज्ञान प्राप्त करते है | यह किताबे हमेशा विद्यालय की नहीं होती, बल्कि अधिकतर उपन्यास अर्थात novel होती है जो आज की पीढ़ी में बहुत ही लोकप्रिय है | इन सभी युवाओ के बीच ऐसे बहुत से युवा भी हैं जो किताबो से किनारा करते दिखते हैं, लेकिन क्या आपको पता है की उपन्यासों व अन्य कहानिओ की किताबे पढ़ने वाले लोगो का मानसिक विकास एक सामान्य व्यक्ति से ज्यादा अच्छी तरह होता है | किताबे मनुष्य की सोचने की शक्ति बढ़ाती है, जीवन का अलग नजरिया प्रदान करती हैं और सबसे महत्वपूर्ण वह आपको भूत, भविष्य और आपको आपके अंतर्मन से परिचित कराती हैं |


बच्चो में पढ़ने की आदत डालना 


यह बहुत ही महत्वपूर्ण है की आप बच्चो में पढ़ने की आदत 12 -13 वर्ष की उम्र से ही डालें | यहां किताबो से सन्दर्भ स्कूल की किताबो से बिलकुल भी नहीं हैं बल्कि कहानी की किताबो से हैं |


  • बच्चे को बचपन से ही कहानी की किताबे लेकर दें |
  • चम्पक की विभिन्न किताबे उन्हें लाकर दें |
  • बच्चो को हो सके तो रात में कहानिया सुनाये |
  • उन्हें कहानियों का महत्व केवल समझाये नहीं बल्कि उन्हें जीवन में उनको इस्तेमाल करके भी दिखाएं |
  • हर महीने किताबों की एक लिस्ट बनाये जो आप चाहते हैं की आपके बच्चे इस महीने पढ़ें |
  • किताबो को उनका दोस्त बनाये उन्हें खाली समय में किताबें पढ़ने को कहें |
  • बच्चो को अपने साथ लाइब्रेरी लेकर जाएँ |
  • बच्चो को उन बच्चो के साथ रहने को कहें जिन्हे किताबें पढ़ना पसंद है |
  • जब बच्चे किताबें पढ़ ले तो उससे उस विषय में चर्चा करें |  

    आपके छोटे छोटे कदम आपके बच्चे के जीवन के बढ़े बढ़े सुधार करने का जरिया बन सकता है |


    Letsdiskuss


    0
    0

    Picture of the author