क्या योग से मानव तनाव दूर होता है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Sameer Kumar

Software engineer at HCL technologies | पोस्ट किया |


क्या योग से मानव तनाव दूर होता है ?


382
0




Content Writer | पोस्ट किया


नमस्कार समीर जी , आपका सवाल बड़ा ही अच्छा है | आज के समय के दस में से आठ लोग मानसिक तनाव के शिकार है | और वो ये बात जानते हुए भी कुछ नहीं कर सकते | क्योकि उनके पास समय का अभाव है | आपका सवाल है योग से कैसे तनाव दूर करे | तो पहले तो तनाव होता क्यों है ये पता होना चाहिए उसका क्या कारण क्या है ,क्योकि बिना कारन जाने उसको दूर करने का समाधान नहीं मिल सकता | और तनाव को दूर करने का योग एक अच्छा और सस्ता साधन कह सकते है मानव जीवन मे | थोड़ा समय अपने लिए देना बहुत आवशयक है जिससे के आप अपनी ज़िंदगी से तनाव को दूर कर सके |


पहले तो ये जाने के योग क्या है  -

                            योग दस हजार साल से भी अधिक समय से प्रचलन में है। मननशील परंपरा का सबसे तरौताजा उल्लेख, सबसे पुराने जीवन्त साहित्य ऋग्वेद में पाया जाता है। यह हमें फिर से सिन्धु-सरस्वती सभ्यता के दर्शन कराता है। ठीक उसी सभ्यता से, पशुपति मुहर (सिक्का) जिस पर योग मुद्रा में विराजमान एक आकृति है, जो वह उस प्राचीन काल में योग की व्यापकता को दर्शाती है। हालांकि, प्राचीनतम उपनिषद, बृहदअरण्यक में भी, योग का हिस्सा बन चुके, विभिन्न शारीरिक अभ्यासों का उल्लेख मिलता है। छांदोग्य उपनिषद में प्रत्याहार का तो बृहदअरण्यक के एक स्तवन (वेद मंत्र) में प्राणायाम के अभ्यास का उल्लेख मिलता है। यथावत, ”योग” के वर्तमान स्वरूप के बारे में, पहली बार उल्लेख शायद कठोपनिषद में आता है, यह यजुर्वेद की कथाशाखा के अंतिम आठ वर्गों में पहली बार शामिल होता है जोकि एक मुख्य और महत्वपूर्ण उपनिषद है। योग को यहाँ भीतर (अन्तर्मन) की यात्रा या चेतना को विकसित करने की एक प्रक्रिया के रूप में देखा जाता है।


                              योग एक प्राचीन भारतीय जीवन-पद्धति है। जिसमें शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाना  योग का काम होता है। योग के माध्यम से शरीर, मन और मस्तिष्क को पूर्ण रूप से स्वस्थ किया जा सकता है। योग के जरिए न सिर्फ बीमारियों का निदान किया जाता है, बल्कि इसे अपनाकर कई शारीरिक और मानसिक तकलीफों को भी दूर किया जा सकता है। योग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाकर जीवन में नव-ऊर्जा का संचार करता है। योगा शरीर को शक्तिशाली एवं लचीला बनाए रखता है साथ ही तनाव से भी छुटकारा दिलाता है जो रोजमर्रा की जि़न्दगी के लिए आवश्यक है। योग तनाव के साथ साथ मोटापे को भी दूर करने मे सहायक है |


नोट :- आपका धन्यवाद् ,अधिक जानकारी व सुझाव के लिए संपर्क करे -  www.letsdiskuss.com

आपके विचार हमारे लिए अनमोल है |



Letsdiskuss


 


496
0

(BBA) in Sports Management | पोस्ट किया


वर्तमान समय में मानव जीवन इतना व्यस्त है,की उसमे आप कुछ भी कर लो आप हमेशा तनाव में रहते है | मुझे नहीं लगता योग करने से किसी का तनाव दूर होता होगा,क्योकि योग मतलब एक स्थान पर बैठ कर अपनी आँखे बंद कर के ध्यान लगाना होता है,और अगर आपका ध्यान ही कही और हो तो तनाव दूर कैसे हो सकता है | 

 

मनुष्य कुछ समय निकल कर अगर एक स्थान पर बैठ भी जाता है,और अपनी आँखे बंद करके ध्यान लगाने की कोशिश भी करता है,तो उसके ध्यान में सिर्फ उसकी वर्तमान समय में चल रही परेशानिया ही आती है | इसलिए मुझे लगता है कि तनाव मुक्त होना इंसान के हाथ में है ना कि किसी योग से आप तनाव मुक्त हो सकते है |

 

Letsdiskuss

 


265
0

Picture of the author