भारत के सबसे प्रसिद्ध और प्राचीन मंदिर कौन से हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


रंजीत केडिया

(BBA) in Sports Management | पोस्ट किया |


भारत के सबसे प्रसिद्ध और प्राचीन मंदिर कौन से हैं ?


1
0




Content Writer | पोस्ट किया


भारत देश विभिन्नताओं का देश है, जहां पर अलग-अलग धर्मों के लोग रहते हैं , और सभी की अपनी-अपनी संस्कृति है | सभी धर्मों को उनका सम्मान मिलता ही, और अगर सभी धर्मों में बात की जाए हिन्दू धर्म की तो हिन्दू धर्म मानने वाले बहुत हैं और साथ ही पूरी दुनिया में बहुत सारे मंदिर है | आज आपको भारत के कुछ प्रसिद्द और प्राचीन मंदिरों के बारें में बताते हैं |
1 .काशी विश्वनाथ मंदिर :-
कशी विश्वनाथ मंदिर उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित है, यह बहुत ही प्राचीन मंदिर है और इस मंदिर में भगवान शिव विद्द्यमान है | यह मंदिर 1780 में अहिल्याबाई द्वारा बनवाया गया था।

Letsdiskuss (Courtesy : Punjab Kesari )

2 .भगवान जगन्नाथ मंदिर :-
भगवान जगन्नाथ का मंदिर बहुत प्रसिद्द और बहुत प्राचीन समय का है | इस मंदिर का निर्माण 12वीं सदी में हुआ | धर्म गुरुओं के अनुसार इस मंदिर एक मान्यता है की यहाँ देवी लक्ष्मी ने महाप्रसाद बाँटा था और जिस व्यक्ति ने भी इस प्रसाद का सेवन कर दिया था उन सभी को आध्यात्मिक ज्ञान की प्राप्ति हुई ।

(Courtesy : Zee News )

3 .वेंकटेश्वर तिरुपति बालाजी मंदिर :-
आंध्र प्रदेश में स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर की हिन्दू धर्म में बहुत बड़ी मान्यता है | यहां हर साल लगभग करोड़ों में श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं | इस मंदिर का निर्माण कृष्णदेव राय के शासन काल में हुआ था | सबसे महत्वपूर्ण बात यह मंदिर भारत का दूसरा सबसे धनी मंदिर की सूचि में आता है |

(Courtesy : Native Planet Hindi )

4 .वैष्णो देवी मंदिर :
जम्मू में स्थित माता वैष्णो देवी के इस मंदिर की भी बहुत अधिक मान्यता है। इस मंदिर में हर साल लगभग 8 लाख भक्त माता के दर्शन के लिए जाते हैं |

(Courtesy : वेबदुनिया )
 
5 . सोमनाथ मंदिर :-
गुजरात में स्थित सोमनाथ मंदिर में भगवान शिव एक ज्योतिर्लिंग के रूप में स्थापित है और यहां की मान्यता इसलिए अधिक है क्योकिं यहां भगवान शिव का प्रथम ज्योतिर्लिंग है, जिसका दर्शन और पूजन बहुत ही महत्वपूर्ण है | मान्यताओं के अनुसार इस मंदिर का निर्माण भगवान शिव के श्राप से मुक्त होने के लिए चंद्रदेव ने करवाया था |

(Courtesy : Aaj Tak )


1
0

Picture of the author