क्यों मेहंदी लाल रंग देता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Jeetendra gautam

Blogger | पोस्ट किया |


क्यों मेहंदी लाल रंग देता है?


0
0




| पोस्ट किया


क्या आपने कभी सोचा है कि मेहंदी का रंग लाल क्यों होता है? आइए जानते हैं इसके पीछे का कारण? ऐसी मान्यता है कि जिस औरत का पति उसे जितना अधिक प्यार करता है उसके मेहंदी का रंग उतना अधिक लाल होता है।

 आइए आप जानते हैं मेहंदी का रंग लाल क्यों होता है वैज्ञानिक कारण क्या है?

 दरअसल मेहंदी के पत्तों में Lawsone पाया जाता है जिसे hennotannic एसिड के नाम से भी जाना जाता है यह कंपाउंड जब मनुष्य की त्वचा के संपर्क में आते ही उसमें मौजूद केराटिन नामक एक प्रोटीन से झगड़ा करने लगता है इसी झगड़े के कारण मेहंदी का रंग लाल हो जाता है।Letsdiskuss


0
0

Businessman | पोस्ट किया


मेहँदी को लेकर कई प्रकार की मान्यता होती है | जैसा कि सब कहते हैं, दुल्हन के हाथ की मेहँदी का रंग ज्यादा हुआ तो उसका पति का प्यार उसके लिए अधिक होता है | मेहँदी का रंग किसी के प्यार पर निर्भर नहीं करता |


मेहँदी को science की तरफ से एक नाम दिया गया है - "लॉसनिया इनर्मिस" | पुराने समय में मेहँदी पत्तियों को पीस कर बनाई जाती थी, जिसको सभी साधारणतः मेहँदी का पेड़ कहते हैं | मेहँदी को पीस कर हथेली में लगाई जाती है, फिर जब मेहँदी सुख जाती है, तो उसको धोने के बाद वह लाल रंग देती है |

आपको बता दें यह लाल रंग प्राकृतिक यौगिक टैनिन के कारण बनता है , जो की सिर्फ मेहँदी में ही नहीं बल्कि बहुत से पेड़ है, उनमें भी पाया जाता है | यह योगिक टैनिन पेड़ की पेड़ की पत्ती , टहनियों,छाल में होता है | कई बार आपने भी इस बात को देखा होगा किसी पेड़ की पत्तियां जब आप हाथों में घिसते हो तो वो रंग छोड़ती है | वो रंग अपने योगिक टैनिन की वजह से छोड़ती हैं |

इसलिए मेहँदी का रंग लाल होता है |

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author