पंजाब के सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या में गिरावट के पीछे क्या कारण हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Sneha Bhatiya

Student ( Makhan Lal Chaturvedi University ,Bhopal) | पोस्ट किया | शिक्षा


पंजाब के सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या में गिरावट के पीछे क्या कारण हैं ?


2
0




Math and Account teacher,Ramanuj Study center in Account,Delhi | पोस्ट किया


यह बहुत दुखद है, कि पांच साल से पंजाब में सरकारी स्कूलों की संख्या में कमी आई है। इसमें 2 लाख की कमी आई है, इसके कारण अन्य सुविधाओं की गुणवत्ता और शिक्षा की कमी में गिरावट आई है। इस मध्यम वर्ग और समृद्ध परिवारों के कारण अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में भेजने से बचना चाहिए। पंजाब क्षेत्र के निम्न आर्थिक वर्ग से जुड़े बच्चे केवल इन स्कूलों में जाते हैं, और यहां सरकारी स्कूल की संख्या भी गिरावट आई है।

पूर्व education minister और SAD leader Daljit Singh Cheema के अनुसार, सरकारी स्कूलों के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। आंशिक रूप से खाते में गिरावट दर्ज की जा रही है, जिसे आधार कार्ड के साथ छात्रों को जोड़कर सही किया जा रहा है |

फिर भी गिरावट को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। कुछ दिनों पहले मद्रास उच्च न्यायालय में सरकारी स्कूलों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था, जो छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान नहीं कर रहा था,और उन्हें "शिक्षा के अधिकार" से वंचित किया जा रहा था |

हमारी देश की शिक्षा नीतियों को सरकारी स्कूलों की शर्त व नियम की देखभाल करनी चाहिए, क्योंकि देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों की शिक्षा सरकारी स्कूलों की शर्त व नियम के आधार पर ही होगी |

Letsdiskuss


1
0

| पोस्ट किया


क्या आप जानते हैं कि पंजाब के सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या में गिरावट क्यों आ रही है चलिए हम आपको पूरी जानकारी देते हैं दरअसल छात्रों की संख्या में गिरावट इस वजह से आ रही है कि सरकारी स्कूलों में कुछ शिक्षा नहीं दी जा रही है यानी कि बच्चों को सही ढंग से पढ़ाया नहीं जा रहा है जिस वजह से बच्चे परेशान होकर सरकारी स्कूलों से अपना नाम कटवा रहे हैं ऐसा 5 साल से होते आ रहा है 5 साल के अंदर 200000 है से अधिक बच्चों ने अपना नाम कटवा लिया है।

Letsdiskuss


0
0

Occupation | पोस्ट किया


पंजाब के सरकारी स्कूलो मे छात्रों की संख्या मे गिरावट आने के पीछे का सबसे बड़ा कारण है, शिक्षक बच्चो क़ो सही ढंग से शिक्षा नहीं दे रहे है, शिक्षक़ो क़ो लगता है कि वह सरकारी पद पर होने के वजह से उनकी सैलरी उन्हें समय से मिलेगी। जिस कारण से बच्चो का भविष्य खराब हो रहा है,इसी वजह से बच्चो के माता -पिता अपने बच्चो क़ो सरकारी स्कूलो मे नहीं पढ़ाना चाहते है, इसलिए वह सरकारी स्कूलो से अपने बच्चो का नाम कटवा कर प्राइवेट स्कूलो मे दाखिला करवा रहे ताकि उनके बच्चे शिक्षा अच्छे से ग्रहण कर सके।

Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


दोस्तों पंजाब के सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या में गिरावट के पीछे क्या कारण हैं आज उस पोस्ट में हम आपको बताएंगे। सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या में गिरावट आने के पीछे बच्चों को सही तरीके से पढ़ाई ना करवाने के कारण से है। क्योंकि सरकारी स्कूल पढ़ाई नहीं करवाई जाती और किसी भी प्रकार की उनको स्कूल में सुविधा भी नहीं दी जाती। पिछले 5 वर्षों में यह गिरावट बहुत बढ़ गई है जिसमें 200000 से ज्यादा बच्चों ने सरकारी स्कूल से अपना नाम कटवा कर प्राइवेट स्कूलों में दाखिला करवाया है।

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author