ओवैसी और योगी आदित्यनाथ में से आप किसको अच्छा नेता मानते हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Satindra Chauhan

| पोस्ट किया |


ओवैसी और योगी आदित्यनाथ में से आप किसको अच्छा नेता मानते हैं?


0
0





देखिये आप हमसे पूछेंगे की योगी जी और ओवैशी में कौन सही ही कौन अच्छा लगता है तो हम तो कवल यही कहेंगे की हमारे लिए तो महाराज जी सब कुछ है मतलब वो एक योगी है उनके लिए लोगो के लिए कोई भेद भाव नहीं है मुस्लिम हो हिन्दू लेकिन अगर आप हमारे धर्म पे कुछ गलत करेंगे तो कोई ना कोई खड़ा होगा वही हमारे योगी बाबा क्र रहे ह। 

 

रही बात ओवैसी की तो वो एक जिहादी मानशिकता का है उसे कवल इस्लामिक शरीयत चाहिए वो कवल अपने बड़ बड़ बोलने के लिए प्रसिद्ध है और कुछ नहीं तो इसके बारे में बात करना ही बेकार है 



योगी न गोरे होते हैं न काले। वह अन्य मनुष्यों की तरह ही है। एक योगी हमारे अस्तित्व के वास्तविक सत्य को खोजने की कोशिश करने में बेहतर है। नीचे कुछ बिंदु दिए गए हैं कि वह एक व्यक्ति कैसे है।

 

योगी आदित्यनाथ 1998 में गोरखपुर निर्वाचन क्षेत्र से 12 वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में चुने गए थे। वे लोकसभा के सबसे युवा विधायक थे। वह अब तक इसी निर्वाचन क्षेत्र से पांच बार सांसद रह चुके हैं। 2014 के लोकसभा चुनावों में, आदित्यनाथ ने 1, 42,309 मतों के अंतर से चुनाव जीता। वह अपने निर्वाचन क्षेत्र के काफी लोकप्रिय राजनेता हैं। उन्हें अपनी सीट पर भी पीएम नरेंद्र मोदी की लहर की जरूरत नहीं थी।


आदित्यनाथ अक्सर अपने भाषणों से विवादों में फंस जाते हैं लेकिन वे वही हैं जो नेता को चलते रहते हैं। आदित्यनाथ हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष महंत अवैद्यनाथ के उत्तराधिकारी हैं।

 

आदित्यनाथ के पूर्ववर्ती महंत अवैद्यनाथ हिंदू महासभा के अध्यक्ष थे। दोनों ने अपने चुनाव प्रचार में हिंदुत्व के एजेंडे को सबसे आगे रखा. जीवन में उनका मिशन अन्य धार्मिक समूहों को वापस हिंदू धर्म में परिवर्तित करना है।

 

2005 में, यूपी के एटा शहर में 5,000 से अधिक लोगों का धर्म परिवर्तन किया गया था। उन्होंने कथित तौर पर कहा: "मैं तब तक नहीं रुकूंगा जब तक कि मैं यूपी और भारत को हिंदू राष्ट्र में बदल नहीं देता"। आदित्यनाथ अक्सर हिंदुत्व पर अपने कट्टर रुख के कारण विवादों में फंस गए हैं। हर बार उनकी लोकप्रियता और उनके मतदाताओं के बीच प्रभाव के कारण उनकी जीत का अंतर नाटकीय रूप से बढ़ता रहा।

 

Letsdiskuss


0
0

Student | पोस्ट किया


योगी आदित्यनाथ और ओवैसी में से मैं योगी आदित्यनाथ जी को एक अच्छा कुशल, प्रभावी जागरूक और जनता का हितकारी नेता मानता हूं। क्योंकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने शासनकाल में उत्तर प्रदेश में  वह कर दिखाया जो आज से पहले कभी नहीं हुआ था। अगर बात उनके कार्य कि, की जाए तो वे सदैव जनता के हित में ही कार्य करते हैं। अयोध्या जो कि प्रभु श्री राम की जन्म भूमि है। वहां जबरन  राम मंदिर को तुड़वा कर वहां बाबरी मस्जिद बनवा दिया गया। बाबरी मस्जिद एक ऐसे मुगल शासक की मस्जिद जिसने भारत पर आक्रमण करके दिल्ली पर शासन किया। और यहां शासन के लिए भीषण नरसंहार भी किया। ऐसे व्यक्ति की मस्जिद भगवान प्रभु श्री राम के मंदिर को तोड़कर बना दी गई। जो कि सभी हिंदूओ के लिए कष्टकारी था। लेकिन योगी आदित्यनाथ अपने प्रयासों से पुनः राम मंदिर का निर्माण करवा रहे हैं जो कि एकदम उचित है। इसलिए योगी आदित्यनाथ एक अच्छे नेता है।

इसके अतिरिक्त आज अगर हमारे देश की जनसंख्या के बारे में बात की जाए तो। दुनिया में सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला दूसरे नंबर का देश है हमारा भारत। तो ऐसी स्थिति में जनसंख्या नियंत्रण के लिए योगी आदित्यनाथ जी ने केवल दो बच्चों वाला कानूनी यूपी में लागू करने की पहल की है। जो कि एकदम उचित है। और इस कानून से जनता को ही फायदा है। दो बच्चों वाला कानून उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे भारत में आना चाहिए।

 योगी आदित्यनाथ जी के अच्छे कार्य की वजह से वह एक अच्छे नेता है। इसके विपरीत यदि ओवैसी को देखा जाए तो सदैव मुस्लिम धर्म की बात करते हैं। और हर बार यह जाहिर करने का प्रयास करते हैं कि भारत में मुस्लिमों का दमन हो रहा है। परंतु वास्तविकता में ऐसा कुछ भी नहीं है।

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author