बच्चों की किताबों से दोस्ती कैसे करवा सकते हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Komal Verma

Media specialist | पोस्ट किया | शिक्षा


बच्चों की किताबों से दोस्ती कैसे करवा सकते हैं ?


1
0




| पोस्ट किया


आजकल के माता-पिता अपने बच्चों की पढ़ाई को लेकर बहुत ही ज्यादा परेशान रहते हैं क्योंकि आजकल के बच्चे पढ़ाई में ध्यान बहुत कम देने लगे हैं और इंटरनेट की दुनिया में खो चुके हैं जिसकी वजह से उनके भविष्य में बहुत ही बुरा असर पड़ने वाला है इस बात को लेकर माता पिता टेंशन ले रहे हैं लेकिन हम आपको यहां पर कुछ तरीके बताना चाहते हैं जिसके द्वारा माता पिता अपने बच्चों को पढ़ाई में रुचि करा सकते हैं।

पढ़ने लिखने को मजेदार बनाएं :-

  बच्चों को अच्छी आदत सिखाने के लिए सबसे जरूरी यह है कि माता पिता को अपने रूटीन में किताबों को पढ़ने के लिए शामिल करना चाहिए और उसमें बच्चों को भी शामिल करना चाहिए और पढ़ाई लिखाई को बोरिंग ना बनाएं बच्चों को पढ़ाने के लिए पढ़ाई को गेम की तरह मजेदार बनाएं ताकि बच्चे पढ़ने में मन लगाकर रखें। ऐसा करने से बच्चे पढ़ाई में अवश्य ध्यान देंगे।Letsdiskuss


0
0

Occupation | पोस्ट किया


माता -पिता अक्सर अपने बच्चों की पढ़ाई को लेकर चिंतित रहते है, कि उनके बच्चे पढ़ाई नहीं करते है। तो यदि आप चाहते है कि आपके बच्चे पढ़ाई करे तो उनके ऊपर किसी तरह कि जोर ज़बरजस्ती ना करे बल्कि बच्चो को बचपन से ही प्यार से चित्र वाली किताबों बच्चों को दे, जिससे बच्चे चित्र वाली किताबें देखेंगे उनका मन किताब पकड़ने करेंगे फिर वह धीरे -धीरे बोलना भी सीख जायेगे।और आप चाहे तो अपने बच्चो को कहानी पढ़कर सुनाये और वही कहानी आप बच्चो से सुने धीरे -धीरे आपके बच्चे किताबो की ओर आकर्षित होने लगेंगे और कहानी, कविता पढ़ना पसंद करने लगेंगे यही एक तरीका है बच्चो को किताबों से दोस्ती करवाने।Letsdiskuss


0
0

Content writer | पोस्ट किया


आज कल के समय में माता-पिता बच्चों की पढ़ाई को लेकर परेशान रहते हैं | सभी माता पिता अपने बच्चों के भविष्य को लेकर काफी चिंचित है | पर क्या बच्चे उतनी पढ़ाई करते हैं, जितना उनके माता पिता उन पर मेहनत करते हैं | 

सभी माँ की एक ही परेशानी है कि उनके बच्चे किताबों से दूर होते हैं, उनका पढ़ाई में मन नहीं लगता | बच्चों का पढ़ाई में मन कैसे लगाया जायें सभी पता-पिता यही सोचते हैं | आइये आज आपको बताते हैं कि आपके बच्चों की किताबों से दोस्ती कैसे करवाई जाए |

सबसे पहले इस बात को सोचें कि बच्चों का पढ़ाई में मन क्यों नहीं लगता | अगर आप उन्हें सिर्फ स्कूल की किताबें पढ़ने के लिए कहते है तो बच्चे जल्दी बोर हो जाते हैं | अगर आप चाहते हैं कि आपके बच्चे किताबों से दोस्ती करें तो आप उन्हें सिर्फ स्कूल की किताबें ही नहीं बल्कि किसी कहानी की, किसी कविता की , रंग बिरंगे चित्रों वाली किताब, दिलचस्प कहानी वाली किताब पढ़ने को दें |

बच्चे की पहले किताब पढ़ने की आदत होनी चाहिए चाहे वो को उसकी स्कूल की हो या वह प्रेरक कहानी की किताब की हो | जब बच्चे हो किताबें पढ़ने की आदत हो जाएगी उसके बाद वह अपनी स्कूल की पढ़ाई भी बहुत मजे से करेगा | क्योकिं ऐसा करने से किताबें उसकी दोस्त बन जाएंगी | जब किताबें आपके बच्चे की दोस्त बन जाएंगी तो उसका पढ़ाई में भी मन लगने लगेगा |


Letsdiskuss


0
0

Picture of the author