कैसे जाने मेरी त्वचा के स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


shweta rajput

blogger | पोस्ट किया |


कैसे जाने मेरी त्वचा के स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ता है?


0
0




Blogger | पोस्ट किया


हमारी त्वचा हमें परेशान इसलिए करती है क्योंकि हम उसकी देखभाल से जुड़ी आम गलतियां करते हैं। त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुपमा बिसारिया कहती हैं कि अगर आप स्वस्थ त्वचा की इच्छा रखती हैं तो नीचे दी गई सबसे बड़ी गलतियां करने से खुद को रोकें:

ठंड में सनस्क्रीन लोशन न लगाना

हममें से ज्यादातर इसी भ्रम में हैं कि सनस्क्रीन लोशन केवल गर्मियों के लिए होते हैं, पर ऐसा बिल्कुल नहीं है। सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणें सर्दियों में भी आपकी त्वचा को उतना ही नुकसान पहुंचा सकती हैं। ये यूवी किरणें त्वचा को समय से पहले उम्रदराज दिखाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। चाहे गर्मी हो या सर्दी, त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए आपको हर दिन त्वचा की प्रकृति के अनुसार सही एसपीएफ वाला सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

दो नए प्रोडक्ट्स का साथ इस्तेमाल

अक्सर बात जब त्वचा की होती है तो हम सभी को लगता है कि बस कोई जादू की छड़ी घूमे और हमारी त्वचा सुंदर हो जाए। जब ऐसा नहीं होता तो हमारा धैर्य जवाब दे जाता है और बस मुंह से यही निकलता है, 'मैंने तो बहुत-सी चीजें इस्तेमाल कीं, पर कोई फायदा नहीं हुआ।' क्या आपको मालूम है कि जो भी प्रोडक्ट आपने इस्तेमाल करना शुरू किया है उसे असर दिखाने में कम-से-कम आठ सप्ताह लग जाता है? तो थोड़ा धैर्य बनाए रखें। इसी के साथ हम एक और गलती करते हैं और वो है एक साथ दो नए प्रोडक्ट्स को इस्तेमाल करना। कभी भी दो नए प्रोडक्ट एक साथ इस्तेमाल करना शुरू न करें। आप हर दो माह पर एक नया प्रोडक्ट इस्तेमाल करना शुरू कर सकती हैं।

स्क्रब का नियमित इस्तेमाल नहीं करना

लोगों में ये आम धारणा होती है कि स्क्रब का ज्यादा इस्तेमाल करने से त्वचा खराब हो जाती है। कई महिलाएं मानती हैं कि संवेदनशील त्वचा पर स्क्रब का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। पर, सच्चाई यह है कि स्क्रब का इस्तेमाल करने से मृत त्वचा निकलती है, झुर्रियां कम होती हैं और त्वचा पर चमक आती है। हां, यह सही है कि ज्यादा जोर से या ज्यादा देर तक स्क्रब का इस्तेमाल करने से त्वचा लाल हो सकती है या छिल भी सकती है। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो अपने लिए हमेशा ऐसा स्क्रब चुनें, जिसमें ज्यादा खुरदरापन न हो। आप घर में रखे हुए ओट्स से भी एक अच्छा स्क्रब बना सकती हैं।



0
0

blogger | पोस्ट किया


त्वचा का प्रकार कई कारकों को ध्यान में रखकर निर्धारित किया जाता है। कुछ महत्वपूर्ण कारकों में शामिल हैं कि आपकी त्वचा सूखी या तैलीय है, और आप कितनी आसानी से तन या जला सकते हैं। त्वचा के प्रकारों को 1 से 6 के माध्यम से वर्गीकृत किया जाता है इस प्रकार हैं:

टाइप 1 बहुत आसानी से जलता है और कभी भी बंद नहीं होता है।

टाइप 2 आसानी से और शायद ही कभी जलता है। कुछ सन एक्सपोजर के बाद

टाइप 3 बर्न कम से कम और धीरे-धीरे होता है। टाइप 4 शायद ही कभी जलता है और सूरज के संपर्क में आने के बाद एक महत्वपूर्ण तन मिलता है।

टाइप 5 शायद ही कभी जलता है और एक अंधेरा तन जाता है।

टाइप 6 जलता नहीं है और धूप के संपर्क की परवाह किए बिना गहरे रंग का होता है। आपकी त्वचा के प्रकार को जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपको सूरज के संपर्क के बारे में सलाह दे सकता है।

उदाहरण के लिए, टाइप 6 त्वचा वाले लोग टाइप 1 वाले लोगों की तुलना में अधिक सूरज के संपर्क को सहन कर सकते हैं। जबकि हर किसी को सूरज के बारे में सावधान रहना चाहिए, त्वचा के प्रकार 1 और 2 वाले लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए।



Letsdiskuss



0
0

Picture of the author