हमारी पीढ़ी की दुखद वास्तविकता क्या है? - Letsdiskuss
img
Download LetsDiskuss App

It's Free

LOGO
गेलरी
प्रश्न पूछे

parvin singh

Army constable | पोस्ट किया 04 Aug, 2020 |

हमारी पीढ़ी की दुखद वास्तविकता क्या है?

rudra rajput

phd student | पोस्ट किया 11 Aug, 2020

अब आजकल के युवा अपने जानने पहचाने और दोस्तो की और से रुख मोड़ के सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव रहते हैं

amit singh

student | पोस्ट किया 07 Aug, 2020

इन्होने अपना सस्कांर खो दिया है

parvin singh

Army constable | पोस्ट किया 07 Aug, 2020

  • कॉलेज के छात्र अपनी नसों में कोकीन इंजेक्ट कर रहे हैं और मतिभ्रम में खुशी की तलाश कर रहे हैं।
  • जोड़े मना रहे हैं कि व्यभिचार अब कोई अपराध नहीं है।
  • किशोर गर्भावस्था के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे हैं क्योंकि सहस्राब्दी कंडोम (यौन शिक्षा की कमी) के उपयोग के बारे में कुछ भी नहीं जानता है।
  • सोशल मीडिया के कारण लोग हीन भावना से ग्रसित हैं।
  • यंगस्टर्स पूनम पांडे ऐप के सब्सक्रिप्शन डाउनलोड और खरीद रहे हैं और अब उसके पास 1 मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं।
  • 6 वीं कक्षा के छात्र कबीर सिंह जैसी फिल्में देखने के लिए जोर दे रहे हैं।
  • छात्र अपनी पढ़ाई के लिए वेश्यावृत्ति की ओर रुख कर रहे हैं।
  • युवा लड़कियां और लड़के सोच रहे हैं कि रिश्ते का मतलब जुबान साझा करना है।
  • अब कोई भी सोशल मीडिया स्टार (दीपक कलाल) बन सकता है।
  • बच्चों की कलम और किताब (बाल श्रम) के बजाय उनके हाथों में मोप और स्वैब होता है।
  • 3 साल के बच्चे ने कथित तौर पर अपने ही परिवार के सदस्य (बाल शोषण) द्वारा बलात्कार किया।
  • युवा दूध व्यापारियों से दूध चुरा रहे हैं और सौभाग्य के लिए फिल्मों के पोस्टर पर इसे डाल रहे हैं।
  • युवा बेरोजगारी दर दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है लेकिन मुख्यधारा की मीडिया और सरकार केवल पाकिस्तान या मोदी के बारे में बात करते हैं।
  • 6 वीं कक्षा के स्कूल के जोड़े अपने भविष्य के बच्चों का नाम तय कर रहे हैं।
  • फेसबुक पर राजेश के 500 दोस्त हैं और इंस्टाग्राम पर 1K फॉलोअर हैं, लेकिन असल जिंदगी में राजेश अकेला और अकेला है।