कौन ज्यादा भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देता है, करण जौहर या फराह खान? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


shweta rajput

blogger | पोस्ट किया |


कौन ज्यादा भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देता है, करण जौहर या फराह खान?


0
0




blogger | पोस्ट किया


जौहर परिवार में जन्मा यह लड़का एक नेपोटिज्म स्टार है क्योंकि वह वही है जिसमें हमारे साथ आलिया, वरुण और अन्य बॉलीवुड बच्चे हैं। उन्होंने खुले तौर पर कहा है कि मैं अपने भैया की लाडका को समर्थन देने का अपना अधिकार नहीं रखता। और हाँ, वह सही है कि उसका अपना अधिकार है लेकिन जब प्रतिभावान लोग नेपोटिज्म के कारण पीड़ित होते हैं तो उस पर विचार किया जाना चाहिए और यदि हामा काम के साथ कोई नया हास्य प्रदान नहीं कर रहा है तो उसे दूसरों को नष्ट करने के लिए लगातार काम नहीं करना चाहिए। उन्होंने सुशांत के साथ ड्राइव बनाई और फिर इसे एक नेटफ्लिक्स रिलीज़ किया, जो चुतियागिरी है भई तेरो केला हाय नाही थी और समय बर्बाद करना है अभिनेता का तोह। उन्होंने कहा है कि वरुण धवन प्रभास से ज्यादा मेहनताना चाहते हैं, इसलिए हमें क्या समझ में नहीं आता है। उनका एक शो है जहां वह पूर्ण चूतिया का काम करते हैं और अन्य लोगों के जीवन में कहर ढाते हैं जैसा कि भारतीय क्रिकेटरों के मामले में है जो बहुत बुरा है।

इसलिए वह नेपोटिज्म के विषय पर ग्रेस अंक प्राप्त करने वाला है और वह नेपोटिज्म का झंडाबरदार है और उसकी वजह से हम कई ऐसे स्टार को देखेंगे जो न जानते हैं कि महाराष्ट्र और भारत के पीएम कौन हैं। करण जौहर के प्रिय मित्र करीना ने जनता को दोषी ठहराया है कि अगर उन्हें नेपोटिज्म से इतनी समस्या है तो वे हमारी फिल्में हाहा हाहाकार कर रहे हैं और इस मायने में वह बहुत सही हैं कि हमें नव-सितारों का समर्थन नहीं करना चाहिए ताकि नव-परिवार का बहिष्कार किया जा सके। इस व्यक्ति के बारे में कहने के लिए बहुत कुछ नहीं है, लेकिन उसका भाई एक सेक्सो-मेनैक है, जो लड़कियों को फिल्म भूमिकाओं के लिए उनके साथ सोने के लिए कहता है, इसलिए हम उन्हें ऐसे शैतान दिमाग वाले भाई के लिए दया करेंगे।


Letsdiskuss



0
0

Picture of the author