नेहरू को कुछ भारतीयों द्वारा क्यों पसंद नहीं किया जाता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


shweta rajput

blogger | पोस्ट किया |


नेहरू को कुछ भारतीयों द्वारा क्यों पसंद नहीं किया जाता है?


0
0




student | पोस्ट किया


क्योंकि ये बहुत बड़ा हिन्दु विरोधी था और ईसी के कारण हमारे देश का टुकड़ा हुआ ये एक नाम का पण्डित था और ईसे हमारे देश के चाटुकारितापूर्ण इतिहासकार इसे महान बना दिये और ना जाने किस रिस्ते से ईसे चाचा लोग बुलाते है ये केवल अग्रेजो का चाटुकार था


0
0

teacher | पोस्ट किया


हा आज कल के युवाओ के बिच नेहरू के प्रति घृणा है जो सही है नेहरू एक ऐसा नेता था जो केवल सत्ता सुख चाहता था इसीलिए उसने भारत का दू टुकड़ा करवाया क्योकि उसे प्रधानमंत्री बनाना था और रही बात जिन्ना की तो वो भी प्रधानमंत्री बनाना चाहता था और इनके जो सरदार थे महात्मा गाँधी वो नेहरू से भट प्यार करते थे इसीलिए तो उन्होंने पटेल जी को प्रधानमंत्री नहीं बनाने दिया क्योकि अगर पटेल जी प्रधान मंत्री बन जाते तो इनकी अय्याशी कैसे होती 

आज कल के युवाओ के बिच नेहरू के प्रति बहुत नफरत है। इसका अधिकांश हिस्सा भारतीयों के एक छोटे से लेकिन बहुत ही दिखने वाले समूह से आता है- युवा जो मध्यम और उच्च मध्यम वर्ग के परिवारों से संबंध रखते हैं और उन राज्यों से आते हैं जहां जाटों, पटेलों, राजपूतों आदि जैसे समुदायों का राजनीति में दबदबा है। दुश्मनी मुख्य रूप से गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र जैसे राज्यों और यूपी के कुछ हिस्सों में मौजूद है जहां राइटविंगर का बोलबाला है। ये क्षेत्र मुख्य रूप से इस दृष्टिकोण के लिए सदस्यता लेते हैं कि भारत केवल हिंदुओं का है और मुसलमान और ईसाई बाहरी हैं। ज्यादातर लोग, जिनकी ये गलत धारणाएं हैं, वे राइटविंगर विचार का अनुसरण करते हैं कि नेहरू ने भारत को कुछ 'महान हिंदू समाज' बनने से रोका। 

  • आज का भारत कहीं बेहतर होता अगर सरदार पटेल नेहरू की बजाय पहले पीएम बनते
  • नेहरू हिंदू विरोधी थे
  • नेहरू ने वंशवादी राजनीति का निर्माण किया
  • 1962 के युद्ध में हार के लिए नेहरू जिम्मेदार थे।
  • नेहरू ने भारत के लिए UNSC में स्थायी सीट को ठुकरा दिया और इसे चीन को दे दिया।

इन सब कारणों से नेहरू को लोग पसंद नहीं करते और मै भी नहीं करता 

Letsdiskuss




0
0

student | पोस्ट किया


नेहरु कि स्वभाव से ही लोग उसे पसन्द नही करते थे भारत के राजनीति मे अगर वंशवाद है तो इन्ही के कारण है अगर देश के टुकड़े हुए है तो इन्ही के कारण हुआ है


0
0

| पोस्ट किया


मैं उनके कार्यकाल के कुछ कारण और असफलताओं के बारे में बता रहा हूं कि क्यों अधिकांश भारतीय स्वतंत्रता सेनानी के बावजूद नेहरू से नफरत करते हैं

 

हैदराबाद: भारत को आजादी मिलने के बाद हैदराबाद के शासक निजाम पाकिस्तान के साथ जुड़ना चाहते हैं और नेहरू बेकार की स्थिति में कोई निर्णय नहीं ले पा रहे थे लेकिन पटेल ने जोर दिया ऑपरेशन पोलो शुरू किया और नेहरू के मूल्यांकन के बिना हैदराबाद को भारत में मिला दिया

 

1968 में चीन के खिलाफ युद्ध: नेहरू भारतीय सेना को पूरी शक्ति देने से हिचकिचाते थे। परिणाम ४० हजार भारतीय सैनिक शहीद हुए, चीन के हाथों जमीन गंवाई जो वास्तव में भारत का हिस्सा है

Letsdiskuss


0
0

आचार्य | पोस्ट किया


नेहरु सत्ता लोभी था उसी कि वजह से कश्मीर मुद्दा आज तक चल रहा है


0
0

student | पोस्ट किया


मुझे भी नेहरु पसन्द नही है उसका कुछ कारण है जैसे अय्याशी 
कश्मीर मुुुुुद्दा 
चिन को जमीन देना 
अपनी देश के जमीन  को बंजर बोल उसेे चिन को सौप देना
हिन्दु धर्म से नफरत  
सुभाष बाबु को गायब होने मे उसपे शक होना लाजमी  होना  


0
0

student | पोस्ट किया


नेहरू एक ऐसा ईन्सान जो कुर्सी के लिए  कुछ भी कर सकता था सुभाष बाबु का पता ना चला चन्द्रशेखर जी का मुखबिरी करवाना


0
0

student | पोस्ट किया


नेहरू हमारे देश के प्रथम प्रधानमन्त्री थे जो चुनाव हार गये थे और हमारे प्रधानमन्त्री बनने वाले थे पटेल जी लेकिन देश के कथित बापु के जिद्द के आगे पटेल जी हार गये और ईस नेहरु को प्रधानमंत्री बना दिया गया


0
0

Picture of the author