पीरियडस् के दौरान पूजा -पाठ क्यों नहीं किया जाता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Setu Kushwaha

Occupation | पोस्ट किया | शिक्षा


पीरियडस् के दौरान पूजा -पाठ क्यों नहीं किया जाता है?


2
0




Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


  • कभी भी औरतों को पीरियड के समय में कोई भी पूजा पाठ नहीं करना चाहिए और ना ही किसी मंदिर में प्रवेश करना चाहिए। क्योंकि हमारे हिंदू धर्म में पूजा पाठ को लेकर बहुत ही महत्व होता है। जिसको व्यक्ति शुद्ध अवस्था में ही कर सकता है। हमारे हिंदू धर्म में तो पीरियड के बक्त रसोई मे भी नहीं जाया जाता है। क्योंकि, जब औरतें पीरियड में होती हैं वह अशुद्ध मानी जाती हैं और ऐसे में उन्हें अचार, पापड़, दही को नहीं छूना चाहिए नहीं तो वह खराब हो जाता है। Letsdiskuss


0
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


  • कभी भी औरतों को पीरियड के समय में कोई भी पूजा पाठ नहीं करना चाहिए और ना ही किसी मंदिर में प्रवेश करना चाहिए। क्योंकि हमारे हिंदू धर्म में पूजा पाठ को लेकर बहुत ही महत्व होता है। जिसको व्यक्ति शुद्ध अवस्था में ही कर सकता है। हमारे हिंदू धर्म में तो पीरियड के बक्त रसोई मे भी नहीं जाया जाता है। क्योंकि, जब औरतें पीरियड में होती हैं वह अशुद्ध मानी जाती हैं और ऐसे में उन्हें अचार, पापड़, दही को नहीं छूना चाहिए नहीं तो वह खराब हो जाता है। Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


अक्सर देखा जाता है कि जब भी महिलाओं को मासिक धर्म शुरू हो जाता है तो उन्हें अपवित्र माना जाता है और उन्हें मंदिर मैं प्रवेश नहीं करने दिया जाता क्योंकि इस दौरान महिलाओं को अपवित्र माना जाता है मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को अचार, पापड़ जैसी भी चीजों को नहीं छूने देने देते  है। तो मैं आप से पूछना चाहती हूं कि महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान जो अत्याचार किया जाता है यह बिल्कुल गलत है क्योंकि यह सब महिलाएं खुद जानबूझकर नहीं करती हैं यह तो प्रकृति का नियम है इसलिए इस दौरान महिलाओं को अपवित्र मानना गलत है।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author