खुशियां कैसे हासिल करें? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


A

Anonymous

| पोस्ट किया |


खुशियां कैसे हासिल करें?


2
0




Occupation | पोस्ट किया


इस दुनिया मे हम सब आये है,तो हम सब को खुश रहने का हक है, लेकिन बहुत से ऐसे लोग होते है जो हमेशा किसी दूसरे व्यक्ति  का उनके जीवन से चले जाने पर वह खुश रहना ही छोड़ देते है। लेकिन हमें अपना जीवन ख़ुशी पूर्वक जीना है, तो हम अपनी खुशियाँ दुसरो से हासिल नहीं कर सकते है। हम अपने जीवन मे खुद को खुश रखने के लिए हमें अपने जीवन मे खुशियों को खुद लाना होगा, क्योंकि खुशियाँ हमारे पास खुद चल कर नहीं आएगी बल्कि हमें खुशियों के पास खुद चलकर जाना होगा।

 

•अपने आप पर आत्मविश्वास बनाये रखे, क्योंकि आत्मविश्वास ही एक ऐसी चीज है जो आपको अंदर से खुश रख सकती है।

•अपने आपको खुश रखने के लिए अपनी मन पसंद बुक्स, मैगजीन आदि पढ़ने से अलग ही खुशी मिलती है।

•आप अपने जीवन मे खुश रहना चाहते है, तो अपनी फैमिली वालो के साथ कही बाहर घूमने के लिए जाये और समय बिताये जिससे आपके रिश्ते आपके फैमिली वालो के साथ मजबूत होंगे और आपके चारो तरह खुशियाँ ही खुशियाँ होंगी।Letsdiskuss


2
0

| पोस्ट किया


खुश रहना सभी के हक में होता है लेकिन इस दुनिया में ऐसे बहुत से लोग हैं जो हमेशा दुखी रहते हैं मैं ऐसे लोगों को कुछ ऐसे नियम बताना चाहती हूं जिसे अपनाकर वह हमेशा खुश रह सकता है तो चलिए जानते हैं कि हम सच्ची खुशी कैसे हासिल कर सकते हैं। इसके लिए हमें थोड़ी मेहनत करनी होगी।

 यदि आप हमेशा खुश रहना चाहते हैं तो अपनी तुलना किसी और से ना करें।

 अपनी खुशियों को लोगों के साथ बांटने से खुशियां दोगुनी हो जाती है।

 अगर आप खुश रहना समझते हैं तो उस काम को करिए जिसमें आपको खुशी मिले, जैसे की किताबें पढ़ना, ऐसे लोगों से मिलना जो हमेशा खुश रहते हैं। इन सभी तरीकों को अपनाकर आप हमेशा खुश रह सकते हैं।Letsdiskuss


1
0

| पोस्ट किया


खुशी तभी हासिल हो सकती है जब मन में संतुष्टि हो और मन में संतुष्टि के लिए आपको अलग-अलग चीजों का प्यार करना आना चाहिए। अगर आपको किसी छोटी चीज को पाने से खुशी होती है तो उसके खो जाने पर दुख होगा इस तरह खुशी और दुख के बीच के दो राहों पर आप हमेशा फसे रहेंगे। इसलिए आध्यात्मिक तौर पर परमानंद की प्राप्ति के लिए प्रयास करना चाहिए। अगर आपके पास कुछ नहीं है तो उसे पाने की इच्छा आपके अंदर से जागृत होगी लेकिन आप उसे इतना महत्व नहीं देंगे कि वह खो जाए तो आप दुखी हो जाएंगे इसलिए सचिन आनंद और परमानंद की खोज करने वाला इंसान कभी भी दुखी नहीं रहता वह हमेशा खुश रहता है। इसलिए खुशी पाने का सबसे अच्छा तरीका है।

Letsdiskuss

 


1
0

Picture of the author