अगर आप हाईवे पर अपनी गाड़ी(कार) तेज़ रफ़्तार में दौड़ाते है तो किन बातों का ख्याल रखने की जरुरत है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Sikandar khan

Engineer at KW Group | पोस्ट किया |


अगर आप हाईवे पर अपनी गाड़ी(कार) तेज़ रफ़्तार में दौड़ाते है तो किन बातों का ख्याल रखने की जरुरत है?


0
0




Working with Maruti Suzuki | पोस्ट किया


हम यह जानते ही है की अक्सर छोटे-बड़े शहरो के लोग ज्यादातर गाड़ियां अपने घर से ऑफिस व ऑफिस से घर तक ही ड्राइव करते है| वैसे ही कुछ लोग खली समय में या फिर कभी कोई काम पड़ते ही हाईवे पर निकल पड़ते है गाड़ियां दौड़ने मगर हाईवे पर की गईं कुछ गलतियां हमारी या हमारी वजह से दूसरे लोगो की जान भी ले सकती हैं। तेज़ रफ्तार से हाईवे पर ड्राइविंग करते समय इन बातो का ध्यान जरूर रखे|


१.बड़े वाहनों से हाईवे पर उचित दुरी बना के चले :- हाईवे पर कार चलको को हमेशा ट्रकों और बसों से एक उचित दूरी बनाकर चलना चाहिए| कई बड़े ट्रकों में पीछे की तरफ बैरियर लगे रहते है, जिससे अगर  छोटी कारें ट्रक से टकराती है तो वे टकराते ही एक तरफ हो जाती हैं और ऐसे में कार में नुकसान यह होता है कि अगर आपकी कार एयरबैग्स लगे है तो वे तब भी टकराकर नहीं खुलेंगे| क्योकि कार में एयरबैग्स के सेंसर्स कार के बोनट में होते हैं और विंडशील्ड हॉट होने के बाद उनके खुलने की आंशका न के बराबर रह जाती है।


२. हाईवे पर डिवाइडर्स का न होना :- आज भी भारत में बने कुछ हाईवे रोड ऐसे हैं,जो डिवाइडर्स के बिना ही है| ऐसे में कार चलको के टर्न ओवरटेक करने से बचना चाहिए| और उन्हें ये कोशिश करनी किये की वे दूसरी गाड़ियों को ओवरटेक सीधी सड़क पर ही करे और जब कोई मोड़ दिखे तो ओवरटेक  न करे बल्कि मोड़ खत्म होने पर ही ओवरटेक करे, मोड़ पर ओवरटेक करने पर आप ओवरस्टीयर भी कर सकते है इससे कार का कंट्रोल आपके हाथों से छूट भी सकता है| यदि आप कभी रात के वक्त हाई बीम पर गाड़ी चलाते है तो सामने से आने वाली गाड़ी को आपकी गाड़ी की दूरी का अंदाजा लगाने में मुश्किल आ सकती है। अगर हाईवे पर डिवाइडर नहीं है, तो ये मुमकिन है कि सामने से आने वाला गाड़ी चालक आपकी व अपनी गाड़ी के बीच की दूरी का गलत अंदाजा लगा ले। हम लोगो को एक बात का विशेष ध्यान होना चाहिए की जब भी शहर के बाद हाईवे रोडस पर आते है तो हमे गाड़ी की स्पीड अचानक से नहीं बढ़ानी चाहिए क्योकि हमारा शरीर अचानक से बड़ी स्पीड के साथ अरजस्ट करने की हालत में नहीं होता ऐसा होने से  हाईवे पर हादसे की आशंका बढ़ जाती है| वैसे हम आप को बता दे की हाईवे पर गाड़ी को ओवरटेक करने के लिए तीसरी सीधेी लेन को सुनिश्चित किया गया है,पर लोग इसका लोग पालन नहीं करते| हमे इस लेन को ओवरटेक के लिए ही प्रयोग में लेना चाहिए| अगर आप गाड़ी को सीधी साइड में स्लो चलेंगे तो पीछे से आपको ओवरटेक करने वाला उलटी साइड से निकलेगा और ऐसे में  वह कहीं भी अपनी गाड़ी को  ठोंक सकता है|


5
0

Picture of the author