क्या सानिया मिर्ज़ा के बिना भारत में टेनिस का कोई भविष्य है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Seema Thakur

Creative director | पोस्ट किया | खेल


क्या सानिया मिर्ज़ा के बिना भारत में टेनिस का कोई भविष्य है ?


1
0




Student | पोस्ट किया


सानिया मिर्ज़ा इस ा बेस्ट पैर इन इंडिया टेनिस पर तेरे अरे सम नई टैलेंट आल्सो तहत अरे बेटर थम


0
0

Working (West Delhi Cricket academy) | पोस्ट किया


भारतीय टेनिस की बात की जाये तो भारत में ऐसे बहुत से टेनिस खिलाड़ी हैं जिन्हे हम सानिया मिर्ज़ा से उच्च स्थान दे सकते हैं, जिसमे लीएंडर पेस, महेश भूपति और विजय अमृतराज जैसे खिलाडी प्रमुख है | परन्तु जब हम सानिया मिर्ज़ा के विषय में बात करते हैं तो ऐसा बहुत कुछ है जो उन्हें अन्य खिलाड़ियों से सबसे अलग बनाता है | 14 वर्षो में 6 Grand Slam जीतने वाली सानिया मिर्ज़ा भारत की सर्वश्रेठ महिला टेनिस खिलाड़ी हैं | सानिया मिर्ज़ा विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी भी रह चुकी हैं | साल 2013 में कलाई पर लगी गहरी चोट के कारण सानिया मिर्ज़ा ने सिंगल्स से संन्यास ले लिया परन्तु डबल्स में बनी रहीं | सानिया 31 वर्ष की है और अभी भी टेनिस खेलती हैं, परन्तु टेनिस वह खेल है जिसमे मानसिक के साथ साथ अत्यधिक शारीरिक क्षमता की आवश्यकता होती है और वह दिन दूर नहीं जब सानिया टेनिस से संन्यास ले रही होंगी |

Letsdiskuss

सानिया के बाद भारत में टेनिस का भविष्य

ऐसे बहुत से भारतीय खिलाड़ी है जो टेनिस में उच्च प्रदर्शन करते नज़र आते हैं जिसमे युकी भांबरी,रोहन बोपन्ना, रामकुमार रामनाथम, सुमित नागल, अंकिता रैना आदि नाम प्रमुख है | यह भारत की युवा पीढ़ी है जो टेनिस में भारत का प्रतिनिधित्व करती है | यह खिलाड़ी उस मुकाम से कोसो दूर हैं जिस स्थान तक सानिया मिर्ज़ा पहुंची हैं | सानिया मिर्ज़ा ने सालो तक भारतीय झंडे का मान बढ़ाया है व विदेशो में तिरंगे को उच्च स्थान दिलाया है | सानिया मिर्ज़ा के आलावा केवल लीएंडर पेस ही हैं जिन्होंने पिछले 5 वर्षो में grand स्लैम जीता है | इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं की सानिया मिर्ज़ा के बाद भारत का विश्व टेनिस में क्या प्रदर्शन रहा है |


सानिया मिर्ज़ा भारतीय टेनिस के लिए वह चेहरा हैं जो सचिन तेंदुलकर क्रिकेट के लिए हैं | सानिया केवल अकेली नहीं हैं जिन्होंने टेनिस में भारत का प्रतिनिधित्व किया है, परन्तु वह टेनिस में लाखो युवाओ को प्रेरित करने में सक्षम जरूर रही है | सानिया की लोकप्रियता विश्व भर में है | अक्टूबर 2005 में Time की रिपोर्ट में सानिया मिर्ज़ा को "50 Heroes of Asia" में स्थान मिला था | सानिया के बाद शायद भारतीय टेनिस वो न रहे जो सानिया के होने पर है |


0
0

Picture of the author