अगर मानव जीवन में आक्सीजन सिलेंडर का प्रयोग करके सांस लेने की नौबत आएगी तो क्या होगा ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Satnaam singh

@letsuser | पोस्ट किया |


अगर मानव जीवन में आक्सीजन सिलेंडर का प्रयोग करके सांस लेने की नौबत आएगी तो क्या होगा ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


नमस्कार सतनाम जी,बहुत अच्छा सवाल पूछा आपने ,क्योकि ये तो कभी किसी ने सोचा ही नहीं होगा की कभी ऐसा समय भी आएगा की सामान्य जीवन जीने के लिए मनुष्य को आक्सीजन सिलेंडर की जरूरत पड़ेगी | क्योकि ये सोचने के लिए भी वक़्त चाहिए ,जिसकी भरपूर कमी है हम सभी के पास |

वर्तमान समय में जो चल रहा है उसको देख कर पहले ये ही मुश्किल है कि दुनिया बचे | ये तो सभी जानते है कि अपनी इस धरती में चल क्या रहा है | रेप ,मर्डर,और हाल ही में सीरिया में होने वाला हमला | कैसे बचाए इस दुनिया को क्या करे ? कुछ समझ नहीं आ रहा है | जो भी हो रहा है वो गलत हो रहा है ,क्योकि दुनिया में ये सब चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब दुनिया नष्ट हो जाएगी | फिर भी हम लोग सब कुछ नज़रअंदाज़ करते है क्योकि हमारे पास समय नहीं इन सब के लिए | 

अब आते है आपके सवाल पर, क्या आपने कभी सोचा है साधारण आदमी एक दिन में कितनी सांस लेता है ? नहीं सोचा ! चलिए हम आपको बताते है आपको एक साधारण इंसान ऑक्सीजन सिलेंडर के हिसाब से 3 ऑक्सीजन सिलेंडर के बराबर एक दिन में सांस लेता है | एक ऑक्सीजन सिलेंडर कि कीमत अगर 700 रूपये है तो 3 कि 2100 रूपए होगी | अगर हर रोज आप 2100 रूपये की सांस लेते है तो आप सोचिये की आप पूरी ज़िंदगी क्या अपने आप पर इतना खर्चा कर पाएंगे |

नहीं ! आप या हम कोई इतना खर्च नहीं कर सकता | इस परेशानी से निकलने के लिए हमे आपको और हम सभी को जितना हो सके पौधे लगाओ ,और पेड़ कटने से बचाओ | क्योकि अगर आपको फ्री की ऑक्सीजन न मिले तो आपको पुरे साल के लिए 7,66,500 रुपए खर्च करना पड़ेगा | सोचिये और समझिये की हमे क्या करना है |


Letsdiskuss


25
0

Home maker | पोस्ट किया


बहुत अच्छा सवाल हैं, किसी ने कभी सोचा ही नहीं ऐसा क्योकिं सभी लोग अपने जीवन में बहुत व्यस्त हैं | अगर नहीं सोचा तो सोचिये! वर्तमान समय में जहां ऐसी ऐसी घटनाएँ हो रहीं हैं कि मानवता शर्मशार हैं ,और दुनियाँ ख़त्म होने की कगार पर हैं, वहीँ दूसरी और जिस तरह पेड़ों की कटाई हो रही हैं, उसको देख कर तो यही लगता हैं कि बहुत जल्दी ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर सांस लेने कि नौबत आने वाली हैं |
अगर आप एक मिनट के लिए अपनी सांस रोक सकें तो पता चलेगा कि पेड़ों को काट कर हम कितना बड़ा गुनाह कर रहें हैं | अगर ये गुनाह इसी तरह चलते रहें तो सांस लेना ही मुश्किल हो जाएगा |  अभी जब तक ऑक्सीजन मिल रही हैं तब तक तो लोग इस बात पर ध्यान नहीं देंगे, परन्तु जिस दिन सच में सांस लेना मुश्किल होगा उस दिन सभी को समझ आएगी |

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author