बिग बैंग सिद्धांत वैज्ञानिक है या मात्र शाब्दिक छलावा? - Letsdiskuss
img
Download LetsDiskuss App

It's Free

LOGO
गेलरी
प्रश्न पूछे

अज्ञात

पोस्ट किया 16 Jul, 2019 |

बिग बैंग सिद्धांत वैज्ञानिक है या मात्र शाब्दिक छलावा?

Kandarp Dave

Blogger | पोस्ट किया 19 Hours ago

वैज्ञानिक जब भी कोई नई बात करते है उसे पहले शाब्दिक छलावा या इग्नोर्ड थ्योरी ही माना जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि ज्यादातर लोग जिस एंगल से वैज्ञानिक सोचते है वैसे सोच नहीं सकते तो वो सिर्फ इन बातो को थ्योरी मानकर छोड़ देते है। आज तक के जितने भी आविष्कार हुए है आप देख सकते है की उनको शुरुआत में टीका ही सहनी पडी थी और जैसे जैसे बात आगे बढ़ी लोगो ने उन्हें स्वीकार करना शुरू कर दिया।

सौजन्य: फंडा बुक 


बिग बैंग थ्योरी ब्रह्माण्ड के सर्जन के बारे में सोच है की आखिर इस संसार की उत्पत्ति कहाँ से हुई। इस के लिए वैज्ञानिकों ने बताया की ब्रह्माण्ड में एक बड़ा विस्फोट हुआ और उस से सारे ब्रह्माण्ड का सर्जन हुआ। खैर अभी भी काफी सारे सवाल खड़े है की ऐसा कैसे हुआ, कब हुआ और इस का प्रमाण क्या है जिसके ऊपर वैज्ञानिक संशोधन कर रहे है। मेरे ख़याल से बिग बैंग सिद्धांत वैज्ञानिक है और कोई शाब्दिक छलावा नहीं है। हो सकता है की वैज्ञानिकों को इस थ्योरी के बारे में अगले चंद सालो में और भी मजबूत प्रमाण मिल जाए जो की इसे शाब्दिक छलावा मानने और कहनेवालों को इसे वास्तविक मानने पर मजबूर कर दे।


Anonymous

पोस्ट किया 16 Jul, 2019

जी हाँ। बिग बैंग एक शाब्दिक छलावा है। क्योंकि ब्रमाण्ड की शुरुआत मे कोई विस्फोटक (bang) नही हुआ। जबकि ब्रमाण्ड का अच्चानक तेजी (सेकण्ड के हजारवें हिस्से में) फैलाव हुआ था। तो इसे बिग एक्सपेंशन की थ्योरी कहा जा सकता है।