टेम्पटेशन बंडलिंग का क्या अर्थ है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Komal Verma

Media specialist | पोस्ट किया |


टेम्पटेशन बंडलिंग का क्या अर्थ है ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


वर्तमान समय में सभी लोग ये चाहते हैं, कि उनकी जीवनशैली व्यवस्थित हो, पूरी तरह स्वस्थ हो और साथ ही उसके हर काम समय पर हो और वह अपना टारगेट अचीव कर सके । परन्तु ऐसा कर पाना पूरी तरह संभव नहीं है, क्योकि मानव जीवन में कई तरह की परेशानी आती रहती है । लोग कभी स्ट्रेस में होते हैं , कभी उनका रूटीन बदल जाता है, कभी उन्हें अपना टारगेट ही क्लियर नहीं होता कि उन्हें चाहिए क्या है जिसके कारण वो अपने जीवन में व्यवस्थित नहीं हो पाते ।


इसके लिए हमें ऐसी ट्रिक की जरूरत महसूस होती है, जिसकी सहायता से हम आसानी से अपना काम पूरा कर सके । ऐसे में टेम्पटेशन बंडलिंग एक ऐसी सुविधा है, जिसकी मदद से आप अपने काम को सही तरीके से कर सकते हैं । टेम्पटेशन बंडलिंग एक सायकोलॉजिकल ट्रिक है जिसके बारें में आपको बताते हैं ।

टेम्पटेशन बंडलिंग का अर्थ :-
टेम्पटेशन बंडलिंग एक ऐसी टर्म हैं जो कि "यूनिवर्सिटी ऑफ पेन्सिलवेनिया" की एक रिसर्चर मिल्कमैन ने दी । इस टर्म के अनुसार हर इंसान को एक ऐसी लिस्ट तैयार करना होता है जिसके अंतर्गत वह उस लिस्ट में अपनी आदतें , अपने काम को डालता है और उसके हिसाब से अपना टाइम निर्धारित करता है । जिसको साधारण भाषा में To-Do list कह सकते हैं । इस लिस्ट में आप अपने उन काम को सेलेक्ट करते हैं जो आपको पूरे दिन भर में करना है ।

टेम्पटेशन बंडलिंग को कैसे व्यवस्थित करें :-

- सबसे पहले लिस्ट तैयार करें :-
सबसे पहले अपने पसंद के काम की एक लिस्ट तैयार करें । इस लिस्ट में वह सभी काम लिखें जो आप पूरे दिन में करना चाहते हैं । ऐसे काम जिनको कर के आपको ख़ुशी होती है फिर चाहे वो टीवी देखना हो या कोई गेम खेलना हो । आप अपने हर काम की एक सूची तैयार कर लें । जिसकी सहायता से आप हर काम को सही समय से कर सकते हैं ।

- महत्वपूर्ण कार्य की लिस्ट :-
अगर आप लिस्ट बनाते हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आप सबसे पहले उन काम को करें जो सबसे ज्यादा जरुरी है । अपनी लिस्ट में ऐसे काम को पहले करें जिनसे आपके और दूसरे काम भी जुड़ें हों । इससे आप कम समय में अपने अधिक काम कर सकते हैं ।

Letsdiskuss (Courtesy : Breaking Muscle )



0
0

Picture of the author