दीवाली पर लक्ष्मी पूजन की ख़ास विधि क्या है ? - Letsdiskuss
img
Download LetsDiskuss App

It's Free

LOGO
गेलरी
प्रश्न पूछे

दलबीर सिंह

Mechanical engineer | पोस्ट किया 23 Oct, 2019 |

दीवाली पर लक्ष्मी पूजन की ख़ास विधि क्या है ?

Pandit Ayush

Blogger | | अपडेटेड 23 Oct, 2019

जैसा कि माता लक्ष्मी अपने सभी भक्तों को धन, यश और कीर्ति देने वाली है । आज आपको यश और कीर्ति देने वाली माँ लक्ष्मी के पूजन विधि की जानकारी देते हैं और पूजन के कुछ खास नियम बताते हैं ।

पूजन के नियम :-

- ध्यान :-

माता लक्ष्मी की पूजा के समय उनका ध्यान लगाना जरुरी होता है । पूजन में उनकी प्रतिमा के सामने हाथ जोड़कर ध्यान लगाना चाहिए ।



- आवाहन :-

माता लक्ष्मी के ध्यान के बाद उनका आवाहन करना पूजा के लिए बहुत ही शुभकारी होता है ।



- फूल चढ़ाएं :-

दोनों हाथ में फूल लेकर लक्ष्मी माता का ध्यान करें और उसके बाद फूल माता के चरणों में सर्पित करें ।


- अर्घ (जल चढ़ाएं ) :-

माता लक्ष्मी की प्रतिमा में जल छिड़कें और उन्हें जल छिड़क कर स्नान करवाना चाहिए ।



- पंचामृत :-

माता लक्ष्मी को पंचामृत से स्नान करवाना चाहिए ऐसा करने से मानव जीवन में आने वाली कमियों को माता दूर करती है । उसके बाद माता को शुद्ध जल से स्नान करवाएं।



- वस्त्र और आभूषण :-

अब वस्त्र और आभूषण पहनाएं और इसके बाद लक्ष्मी जी की आराधना शुरू करना चाहिए ।




पूजा विधि :-

सबसे पहले अपने पूजा स्थल को अच्छी तरह साफ़ करें और उसके पास रंगोली बनाएं । अब रंगोली के ऊपर लकड़ी की चौकी रखें और उस पर कपड़ा बिछा दें । चौकी के ऊपर गौरी गणेश और माता स्वरस्वती की प्रतिमा रखें और साथ ही सुपारी से नवग्रह बनाएं । अब कलश की स्थापना करें । माता लक्ष्मी का चित्र या मूर्ति कुछ भी हो परन्तु वह बैठी हुई होनी चाहिए न की खड़ी हुई । लक्ष्मी जी के साथ अपने कुछ सोने के आभूषण रखें,कुछ पैसे और एक चांदी का सिक्का जरूर रखें ।

अब पहले पृथ्वी का पूजन करें, इसके बाद कलश का पूजन और अब गौरी गणेश और माता स्वरस्वती का पूजन करें । अब आप माता लक्ष्मी का पूजन करें । ऐसे ही आप सभी देवी देवताओं का आवाहन करें और उनका पूजन करें । अब आप कई सारे दीपक जलाएं और उन सभी दीपक की भी पूजा करें उन पर जल छिड़कें और सभी पर टिका लगाएं । इसके बाद दीपक अपने घर में सभी जगह लगा दें । एक दीपक अपने घर के रसोई घर में अवश्य लगाएं । लक्ष्मी जी की आरती करें और उन्हें भोग लगाएं । दोनों हाथ जोड़ कर माँ लक्ष्मी से विनती करें कि वो सदैव के लिए हमारे घर में विराजमान रहें और घर में खुशियों का आगमन हो । ऐसी प्रार्थना कर के माता की पूजा संम्पन करें ।