सिकंदर की आखरी 3 इच्छाएं क्या थीं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Kush Kumar

Student | पोस्ट किया | शिक्षा


सिकंदर की आखरी 3 इच्छाएं क्या थीं?


2
0




Student | पोस्ट किया


सिकंदर का जन्म 20 जुलाई 356 इसवीं कों पेला नामक राज्य में हुआ था। सिकंदर का पूरा नाम एलेक्जेंडर तृतीय और एलेग्जेंडर मेसेडोनिया था। सिकंदर के पिता का नाम फिलिप और माता का नाम ओलंपिया था। सिकंदर का विवाह रुखसाना के साथ हुआ। सिकंदर जब 20 वर्ष के थे। तब वह मेसेडोनिया  का राजा बन गये थे। तब वह मेसेडोनिया का राजा बना और विश्व कों जीतने का सपना पालने लगा।  सीकंदर  कों ज़ब पता चला  की उसकी मृत्यु निश्चित हैं। तो उसने अपने वजीर से कहा की मेरे मरने  के बाद. मेरी इच्छाये दुनिया में सबको पता चले। दुनिया में खौफ  पैदा करने  वाला सीकंदर कों ज़ब अपनी मृत्यु का पता चला  तो वह बहुत डर गया था। सीकंदर. कों पता था। उसकी मृत्यु निश्चित हैं। उसने अपने वजीर  से कहा मेरी 3 अंतिम इच्छाएं हैं                                                                                                                        1---ज़ीन वैद्य ने मेरी बीमार होने पर मेरा इलाज किया था। वह सब मेरे मरने पर मुझे कंधा देंगे। ताकि दुनिया को पता चले कि वह वैध जो  रोग का इलाज करते हैं।यह मौत कों हरा नहीं सकते                                                                                                                                      2--मेरे ज़नाजे  में वो सारी दौलत बिछादी जाये। जो मेने जीती  हैं। की लोगों कों पता चले  सके मरने  के बाद दोलत कुछ. काम. की नहीं होती।                                                                                                              3----ज़ब महानसीकंदर  का जनाजा  बहार निकाला  जाये । तो दोनों हाथ  बहार निकाले  जाये  लोगों कों पता चले। की इंसान धरती  में खाली  हाथ. आता  हैं।Letsdiskuss




1
0

Picture of the author