पीने का साफ पानी नहीं मिलने की वजह से हर साल कितने लोगों की मौत होती है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


pravesh chuahan,BA journalism & mass comm | पोस्ट किया |


पीने का साफ पानी नहीं मिलने की वजह से हर साल कितने लोगों की मौत होती है ?


0
0




pravesh chuahan,BA journalism & mass comm | पोस्ट किया


इन दिनों कोरोना वायरस का नाम हर किसी के  दिलो दिमाग में बैठा हुआ है  और बैठना भी चाहिए क्योंकि  यह वायरस है  ही इतना खतरनाक मात्र छूने भर से भरत पाल जा रहा है अब यह वायरस  पूरी दुनिया में फैल चुका है जिस वजह से विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दिया है. इस खतरनाक वायरस की वजह से पूरी दुनिया में अभी मौतों का सिलसिला जारी है  और आगे भी मौतों का सिलसिला जारी रह सकता है क्योंकि मामले दिनों दिन बढ़ते ही जा रहे हैं. पूरी दुनिया में  इस समय 60 लाख 45 हजार से ज्यादा क्रोना वायरस से संक्रमित मामले सामने आए हैं और तीन लाख 67 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं.

 पीने का साफ पानी नहीं मिलने की वजह से दुनिया भर में मौतों के आंकड़ों पर  विचार करना  बहुत जरूरी है.आप सोच भी नहीं सकते जितनी मौतें कोरोना वायरस से नहीं हो रही है उससे ज्यादा हर साल मौतें दूषित पानी पीने की वजह से होती हैं.डब्ल्यूएचओ और सीडीसी के मुताबिक दुनिया भर में हर साल तकरीबन 35 लाख लोगों की जान स्वच्छ पीने का पानी ना मिलने के कारण होती है. वर्तमान में 60 करोड़ भारतीय पानी की कमी का सामना कर रहे हैं. 75 फीसदी भारतीयों के पास पीने का साफ पानी उपलब्ध नहीं है.

नीति आयोग की साल 2018 में जारी एक रिपोर्ट में कहा गया था कि साफ़ पानी नहीं मिलने की वजह से हर साल दो लाख लोगों की मौत हो जाती है. साल 2019 के अप्रैल महीने में भारत का 42 फ़ीसदी हिस्सा सूखे की चपेट में था. यानि हर दिन तकरीबन 548 मौतें हो रही है.भारत में क्रोना वायरस से मरने वाले आंकड़ो पर बात करें तो प्रतिदिन 250-300 के आस-पास मौते हो रही हैं. साल 2030 तक पानी की मांग पानी की उपलब्धता से दो गुनी अधिक हो जाएगी...


Letsdiskuss


0
0

Picture of the author