ऐसे भारतीय आविष्कार के बारें में बताओ जिसको विदेशी माना जाता है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


राहुल श्रीवास्तव

Accountant, (Kotak Mahindra Bank) | पोस्ट किया |


ऐसे भारतीय आविष्कार के बारें में बताओ जिसको विदेशी माना जाता है ?


0
0




Teacher | पोस्ट किया


वर्तमान में कई ऐसे आविष्कार हुए हैं, जिसकी सहायता से मानव जीवन में कई सारे बदलाव हुए हैं । ऐसे कई सारे आविष्कार हैं जो हैं तो भारत के परन्तु उन्हें विदेशों ने अपना नाम दिया है । आज हम ऐसे ही कुछ अविष्कारों के बारें में आपको बताते हैं जो भारत के हैं ।


अस्त्र-शस्त्र :-
जैसा कि वर्तमान समय में कई ऐसे शस्त्र हैं जिनका प्रयोग युद्ध की किसी स्थिति या दुश्मनों को सबक सीखने के लिए किया जाता है । आज के आधुनिक समय में जितनी भी बंदूक, मशीनगन, परमाणु बम और विषैली गैस का प्रयोग किया जाता है , वह सभी हमारे धर्म ग्रंथों से ही निकले हैं । भारतीय धर्म ग्रंथ में जिन आग्नेय अस्त्रों के बारें में बताया गया है वो आधुनिक समय बनाये गए हैं जैसे वरुणास्त्र, पाशुपतास्त्र, सर्पास्त्र, ब्रह्मास्त्र आदि ।

Letsdiskuss (Courtesy : Lokmatnews )

पहिया :-
आज कल के समय में कहीं जल्दी जाने का सबसे अच्छा साधन है, बाइक , कार , बस , रेलगाड़ी और हवाई जहाज । वैसे तो हवाई जहाज हवा में उड़ता है परन्तु उसके लिए भी पहले उसको धरती में पहियों की सहायता से ही चलना होता है । पहिये का आविष्कार भी भारत में ही हुआ , लगभग 5000 साल पहले रामायण और महाभारत के काल में पहिए का वर्णन किया गया है । क्योकि उस वक़्त युद्ध के समय प्रयोग किये जाने वाले रथों को चलाने के लिए पहियों का इस्तेमाल किया गया ।

(Courtesy : अभिव्यक्ति भावनाओं की )

रेडियो :-
कहने को तो गीत सुनने की मशीन का अविष्कार विदेशी माना जाता है । वर्तमान में कई ऐसी एप्लीकेशन आ गई है जिसकी सहायता से आप अपने पसंद के गीत सुन सकते हैं, परन्तु गीत सुनने का सिलसिला रेडियो से ही हुआ और जिसका आविष्कारक "मार्कोनी" को माना जाता है। परन्तु इस बात को शायद कोई नहीं जानता कि "जगदीश चंद्र बसु" ने ब्रिटिश काल में रेडिओ की खोज की और उनकी ही एक किताब में लिखे गए नोट्स के आधार पर रेडिओ का आविष्कार हुआ ।

(Courtesy : विकिपीडिया )



0
0

Picture of the author