इयर लोब सर्जरी के बारे में बताएं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Ruchika Dutta

Teacher | पोस्ट किया |


इयर लोब सर्जरी के बारे में बताएं?


0
0




Lifestyle Expert | पोस्ट किया


इयररिंग न पहनो तो चेहरा सूना-सूना लगता है। यह केवल एक महिला का कहना नहीं है, बल्कि 99 फीसद महिलाएं ऐसी ही सोच रखती हैं। भारी इयर रिंग पहनने से कान कट जाता है, इसे ठीक करने वाली सर्जरी को इयर लोब सर्जरी कहा जाता है।


खुद को खूबसूरत व आकर्षक दिखाने के लिए डिजाइनर इयररिंग पहनना आज ट्रेंड में शामिल है। बल्कि अब तो कई पुरुष भी कान में जूलरी पहनकर इतराने लगे हैं। अब तो केवल कान में एक छेद ही नहीं, बल्कि कई छेद करने का भी फैशन चल पड़ा है।


हैंगिंग या हेवी जूलरी पहनने से कान को कई तरह से नुकसान पहुंचाता है। कान के दो हिस्से हो सकते हैं या घाव भी हो सकता है। कई बार एक्सीडेंट के दौरान भी कान को क्षति पहुंचती है। कान में हुआ इस तरह का नुकसान बुरा दिखता है, जिसे आसानी से ठीक करना मुश्किल है। लेकिन प्लास्टिक सर्जरी के जरिए इस समस्या ने निजात पाई जा सकती है। यह काफी आसान भी है। इस सर्जरी को इयर लोब सर्जरी कहते हैं।


इस प्रक्रिया के तहत कान में हुए किसी भी तरह के कट को ठीक किया जाता है। कान के दो अलग लोब को एक साथ किया जाता है। जरूरत पड़ी को सर्जरी के दौरान स्टिच का भी इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि कई दफा सर्जिकल ग्लू का भी प्रयोग स्चिट की बजाय किया जाता है।


ध्यान यह रखा जाता है कि पेशेंट के इयर लोब पर सर्जरी के बाद दाग न रह जाए। इस सर्जरी के बाद केवल कान को धोने और साफ रखने में एहतियात बरतना जरूरी है। इसमें ड्रेसिंग की आवश्यकता नहीं पड़ती।


अधिकतर मामलों में नॉर्मल एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट ही दी जाती है। इयर लोब सर्जरी के एक सप्ताह बाद यदि लोब पूरी तरह से ठीक हो जाता है तो स्चिट को हटा दिया जाता है। 


Letsdiskuss


0
0

Picture of the author