अस्थमा का प्राकृतिक उपचार क्या है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Aditya Singla

Marketing Manager (Nestle) | पोस्ट किया |


अस्थमा का प्राकृतिक उपचार क्या है ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


अस्थमा का अटैक आने का मतलब श्वास नली का पूरी तरह बंद हो जाना होता है | जब श्वास नली पूरी तरह बंद हो जाने पर शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को आक्सीजन मिलना पूरी तरह बंद हो जाती है | जो भी अस्थमा रोगी होते हैं तो हमेशा अपने पास अस्थमा पम्प रखते हैं | ऐसे लोग कहीं बाहर भी जाएं तो भी उन्हें कई सारी सावधानी बरतनी पड़ती है | वैसे तो अस्थमा का उपचार सही और अच्छे डॉक्टर की परामर्श से होना आवश्यक होता है | परन्तु अगर आप प्राकृतिक उपाय से भी इस रोग से बच सकते हैं |


आइये आपको कुछ प्राकृतिक उपाय बताते हैं, जिसकी सहायता से आप अस्थमा रोग से बच सकते हैं -

आम का पत्ता :-
आम जितना फायदेमंद होता है उससे कहीं ज्यादा फायदेमंद आम का पत्ता फायदेमंद होता है | अगर आप आम के पत्ते का काढ़ा बनाकर अस्थमा रोगी को पिलाते हैं, तो इससे रोगी को बहुत फायदा होता है | यह पूरी तरह प्राकृतिक इससे किसी भी प्रकार का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता | आम के पत्ते में एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन, विटामिन A ,B और C के गुण होते हैं | यह अस्थमा का अच्छा प्राकृतिक उपचार है |

Letsdiskuss (Courtesy : Herbal Shopy )

अदरक और लहसुन :-
अस्थमा रोगी के लिए अदरक और लहसुन दोनों ही इलाज़ में शामिल होते हैं | अगर अस्थमा रोग की सिर्फ शुरुआत है तो इसके लिए 30 ML दूध में लहसुन की पांच कलियां उबाल लें और इसका सेवन करें | ऐसा आप प्रतिदिन करें यह लाभदायक होगा | इसके अलावा अगर अदरक की चाय में लहसुन की 2 कलियाँ डालकर सुबह-शाम पीएं तो इससे अस्थमा रोगी को काफी लाभ मिलता है |

(Courtesy : indiablah.com )

अजवाइन का सेवन :-
एक कप पानी में एक चम्मच अजवाइन डालें और तब तक उबालें जब तक पानी आधा कप न हो जाए | उसके बाद उसको ठंडा करें और आधे कप अजवाइन के पानी में आधा कप साधारण पानी डालें और हर रोज भोजन करने के बाद सुबह शाम अजवाइन के पानी का सेवन करें | इससे श्वास नहीं खुली रहती है और अस्थमा अटैक आने के चांस कम होते हैं |

(Courtesy : Punjab Kesari )


0
0

Picture of the author