कौन सी तीन चीज़ों का अपमान मनुष्य के सभी पुण्य को ख़त्म कर सकता है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Ajeet Raturi

Chef (REDFORT CHINA BEIJING ) | पोस्ट किया | ज्योतिष


कौन सी तीन चीज़ों का अपमान मनुष्य के सभी पुण्य को ख़त्म कर सकता है ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


मनुष्य अपने जीवन में पूजा पाठ करता है, और उसके साथ ही कई सारे पुण्य कमाता है | कुछ लोग पूजा में भरोसा करते हैं और कुछ लोग नहीं करते हैं | जो लोग पूजा में विश्वास करते हैं उनके लिए इस बात को जानना बहुत जरुरी है कि अगर उन्हें अपनी की हुई पूजा का कोई फल नहीं मिलता तो उसका क्या कारण हो सकता है ? आइये आज आपको बताते हैं कि मनुष्य किन चीज़ों की वजह से अपने पुण्य को खो सकता है |

किसका अपमान न करें -

गाय :-
हिन्दू धर्म में गाय बहुत ही महत्वपूर्ण और पूजनीय मानी जाती है | गाय को गौ माता नाम से सम्बोधित किया जाता है | गाय को कामधेनु भी कहा जाता है | गाय का दूध ही नहीं बल्कि गाय का मूत्र भी हिन्दू धर्म में अमृत के समान है | गाय का अपमान करना घोर पाप माना गया है | गाय का अपमान अपनी माँ के अपमान बराबर है | पुराणों में गाय के अपमान का कोई प्रायश्चित्त नहीं है गाय का अपमान करने वाला सजा का हकदार माना गया है |

Letsdiskuss (Courtesy : YouTube )

तुलसी का पूजन हिन्दू धर्म में बहुत ही महत्वपूर्ण है | तुलसी का पूजन जितना जरुरी है उससे कहीं ज्यादा जरुरी पूजा के समय तुलसी का होना होता है | तुलसी के बिना भगवान विष्णु को भोग नहीं लगता क्योकिं भगवान बिना तुसली के भोग और पूजा स्वीकार नहीं करते | अगर तुलसी का अपमान होता है तो इसका साफ़ अर्थ है कि आप स्वयं भगवान का अपमान कर रहे हैं | इसलिए हिन्दू धर्म में तुलसी का अपमान भी दंडनीय माना जाता है |

(Courtesy : विकिपीडिया)

गंगा :-
वैसे तो गंगा नदी को भी माँ का दर्ज़ा दिया जाता है | गंगा नदी में स्नान करना बहुत ही शुभ और अच्छा माना जाता है | कहा जाता है कि गंगा में स्नान करने से सभी पाप नष्ट हो जाते हैं | गंगाजल एक ऐसा जल है जो सभी पूजा कार्यों में शामिल होता है | बड़ी से बड़ी पूजा बिना गंगाजल के पूरी नहीं होती | परन्तु आज के समय में गंगा नदी में जो लोग कूड़ा कचरा या गंदगी मचा रहे हैं तो ऐसा कर के वो गंगा को सिर्फ गन्दा ही नहीं बल्कि उसका अपमान भी कर रहे हैं जो कि बहुत ही ग़लत बात है | इससे सभी लोग पाप के भागीदार बन रहे हैं |

 
(Courtesy : Hindustan )


0
0

Picture of the author