हमारे शरीर में नाभि क्यों मौजूद है? इसकी क्या आवश्यकता है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Himani Saini

| पोस्ट किया |


हमारे शरीर में नाभि क्यों मौजूद है? इसकी क्या आवश्यकता है ?


9
0




| पोस्ट किया


चलिए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं कि हमारे शरीर में नाभि क्यों मौजूद होती है और इसकी क्या आवश्यकता होती है।

नाभि शरीर का एक उभरा हुआ भाग होता है जो सपाट और खोखला क्षेत्र होता है। नाभि शरीर में गर्भ के पास पाई जाती है।

चलिए दोस्तों हम आपको बताते हैं की नाभि की क्या आवश्यकता होती है-

जब कोई बच्चा अपनी मां के पेट मे गर्भ में होता है तो उस बच्चे को पोषण नाभि के जरिए प्राप्त होता है।

नाभि एक मुड़ने वाली ट्यूब है और यह ट्यूब आवश्यक पोषक तत्व जैसे कि विटामिन और खनिजों को मां से मां के पेट में पल रहे बच्चे तक ले जाती है। 

 

अगर मैं आसान भाषा में कहूं तो जैसे कोई मां होती है और उसके पेट में कोई बच्चा होता है तो वह बच्चा पेट के अंदर खाना नहीं खा सकता

और ना ही पानी पी सकता है और ना ही सांस ले सकता है बल्कि बच्चों को यह सब चीज मां के पेट से नाभि के जरिए प्राप्त होता है। कहने का मतलब यह हुआ कि जो भी माँ खाना खाती है वह बच्चों के पेट में नाभि के माध्यम से जाता है। इसके बाद जब बच्चा जन्म ले लेता है तो उसे नाभि के माध्यम से पोषक तत्व को ग्रहण करने की आवश्यकता नहीं होती है बल्कि वह स्वयं सांस ले सकता है और मां का दूध भी पी सकता है, इसलिए डॉक्टर जब बच्चा जन्म लेता है तोबच्चे के नाभि में जुड़े नारे को काट देते हैं लेकिन बच्चे के नाभि में एक छोटा सा स्टाम्प रह जाता है कुछ दिन बाद मतलब की 10 से 12 दिन बाद यह स्टांप भी बच्चे के नाभि से गिर जाता है और केवल बच्चे की नाभि रह जाती है तब इसका शरीर में कोई कार्य नहीं होता है यह केवल एक निशान के रूप में शरीर में रह जाती है।

 

 

Letsdiskuss

 

 

 


2
0

| पोस्ट किया


क्या आपने कभी सोचा है कि हमारे शरीर में नाभि क्यों मौजूद है और?इसकी क्या आवश्यकता होती होगी ? शायद आप नहीं जानते होंगे तो कोई बात नहीं चलिए हम आपको इसकी जानकारी देते हैं:-

दोस्तों मैं आपको बता दूं कि नाही मेडिकल रूप से वह स्थाई निशान है जहां से आपकी गर्भनाल में आपकी कम्युनिकेशन सिस्टम को प्लेसेंटा से जोड़ा था। मैं आपको बता दूं कि जब बच्चा भ्रूण के रूप में गर्भ में रहता है तो भ्रुण सांस नहीं लेते ना ही कहते हैं और ना ही वेस्ट को शरीर से बाहर निकालते हैं। यही वजह है कि प्लेसेंटा मां को ऑक्सीजन और जरूरी पोषक तत्वों को उसके ब्लड सर्कुलेशन से भ्रूण तक पहुंचाने के लिए एक एक्सचेंज पॉइंट देता है। आपने देखा होगा कि बच्चों के जन्म के बाद डॉक्टर नल को काट देती है। और उसे जगह को बंद कर देती है जो की सुख जाता है और लगभग एक हफ्ते के अंदर गिर जाता है और कनेक्शन का बिंदु आप की नाभि रह जाती है।दोस्तों मैं आपको सरल भाषा में बताना चाहूंगी कि नाभि का कार्य मुख्य रूप से मन से विकास सर बच्चे तक विटामिन और पोषक तत्व पहुंचना है।

 

चलिए अब हम आपको नाभि के बारे में कुछ अन्य जानकारियां देते हैं:-

दोस्तों मैं आपको बता दूं कि मनुष्य के नाभि के आसपास 1400 प्रकार के बैक्टीरिया पाए जाते हैं।

सबसे जरूरी बात में आपको बताना चाहूंगी कि नाही केवल स्तनधारी में पाई जाती है। यानी कि जो जानवर अंडे देते हैं उनकी नाभि नहीं होती है।

दोस्तों मैं आपको बता दूं कि दुनिया की चार प्रतिशत लोगों की नाभि बाहर निकली हुई होती है, और 96% लोगों की नाभि अंदर की ओर घुसी हुई होती है।

यदि पुरुषों के नाभि की बात की जाए तो महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों की नाभि के आसपास अधिक बल मौजूद होते हैं।

 

 

Letsdiskuss

 

 


0
0

');