क्या बार-बार नहाने से रोक प्रतिरक्षा प्रणाली यानी immunity system कमजोर हो जाता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


A

Anonymous

| पोस्ट किया |


क्या बार-बार नहाने से रोक प्रतिरक्षा प्रणाली यानी immunity system कमजोर हो जाता है?


0
0




| पोस्ट किया


 

अगर आपको रोज रोज रहा नहाना अच्छा नहीं लगता है तो घबराने की बात नहीं है क्योंकि ज्यादा अधिक नहाने से इम्यूनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है, ऐसा एक रिसर्च बताता है। आप जरूर पढ़ें तब आप एक के सही नतीजे पर पहुंचेंगे। 

 

रोज रोज नहाना सेहत के लिए हानिकारक

 

एक रिसर्च के अनुसार विशेषज्ञों ने माना है कि रोज रोज नहाना सेहत के लिए सही नहीं होता है। दोस्तों भले ही यह बात आपको चौंकाने वाली लगती हो लेकिन यह सही है। विशेषज्ञ का कहना है कि हर दिन नहाने से इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। आखिर में किस आधार पर यह बात कह रहे हैं आइए जानें-

 

Letsdiskuss

 

एक यूनिवर्सिटी के अध्ययन से हुआ खुलासा

 

आपको बता दें कि दुनिया के मशहूर कोलंबिया विश्वविद्यालय में इस बात के लिए बकायदा स्टडी हुई। करने वाले विशेषज्ञ एलेन लार्सन ने बताया, नहाते हैं तो हमारे त्वचा की नमी कम होने लगती है और शरीर में रूखापन व दरारे आ जाती हैं। बताया कि नहाने से केवल शरीर की बदबू ही दूर होती है लेकिन इसके उल्टे शरीर की नमी खत्म हो जाती है और शरीर में छोटे-छोटे दरार हो जाती हैं जिसमें खतरनाक बैक्टीरिया पनप सकता है और हमें संक्रमित कर सकता है।

 

विशेषज्ञों ने बताया कि हमारे शरीर में नहाने से प्राकृतिक तौर पर तेल की नमी कम हो जाती है और जो गुड बैक्टीरिया होते हैं वह नेगेटिव वर्क करने लगते हैं जो हमारे रोग प्रतिरोधक रोधक क्षमता को प्रभावित करते हैं। बताया जाता है कि हफ्ते में केवल एक या दो बार नहाना ही ठीक है। विशेषज्ञों का कहना है कि इसलिए क्योंकि हमारा शरीर खुद प्राकृतिक रूप से तेल बनाता है जो नहाने पर नष्ट हो जाता है इस कारण से हम संक्रमित हो सकते हैं। इसलिए रोज नहाना सही नहीं है।

कई दिनों से जब कोई नहाता नहीं है तो बैड बैक्टीरिया से लड़ने के लिए प्राकृतिक रूप से उसके शरीर में गुड बैक्टीरिया बन जाते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर होते हैं लेकिन जैसे ही नहा लिया जाता है वैसे ही गुड बैक्टीरिया भी बैड बैक्टीरिया के साथ खत्म हो जाते हैं। इस संक्रमण से हर हालत में बचना होता है नहीं तो बैड बैक्टीरिया हमें फिर संक्रमित कर सकते हैं क्योंकि इस समय गुड बैक्टीरिया शरीर में पनप जल्दी नहीं पाता है।


0
0

Picture of the author