अगर तनाव मे दवा और मेडिटेशन मे से कोई एक विकल्प चुनना हो तो किसको चुनना चाहिए, बताइये ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


राहुल श्रीवास्तव

Accountant, (Kotak Mahindra Bank) | पोस्ट किया |


अगर तनाव मे दवा और मेडिटेशन मे से कोई एक विकल्प चुनना हो तो किसको चुनना चाहिए, बताइये ?


0
0




Home maker | पोस्ट किया


नमस्कार राहुल जी , आपका सवाल बहुत अच्छा है,वाकई आज वर्तमान बहुत से लोग है जो तनाव से परेशान है |


तनाव इंसान को अंदर से कमजोर बना देता है | दवा बहुत उपयोगी हो सकती है लेकिन एक निश्चित समय तक,बहुत अधिक लंम्बे समय तक दवा लेना समाधान नहीं है | यदि आप तनाव की स्थिति की चरम सीमाओं पर लगातार आगे बढ़ते जा रहे है ,तो आप एक योग्य डॉक्टर के कहे अनुसार दवा ले सकते हैं।


तनाव के लिए सबसे अच्छा विकल्प मेडिटेशन होता है | जिसको सामन्य तौर की भाषा मे ध्यान लगाना कहते है | अगर आपके पास दवा और मेडिटेशन इन दोनों विकल्प है और आप किसी एक को चुनना चाहते है और आपको समझ नहीं आ रहा क आप किसको चुने तो आपको मेडिटेशन को चुनना चाहिए | वैसे दवा और मेडिटेशन दोनों ही तनाव से लड़ने मे सहायक है,परन्तु दवा का सेवन लंम्बे समय तक करने का अर्थ बीमारी को बुलावा देना हो सकता है |


तनाव के समय किसी योग्य व्यक्ति से बाते करना या किसी चीज की सलाह लेना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है | तनाव के लिए  चिकित्सा और दवा का खर्च काफी महंगा हो सकता है तो आपको जरुरी है के आप किसी ऐसे डॉक्टर के पास जाए जो आपको सही सलाह दे और आपको उतनी ही दवा दे जितनी आपके लिए जरुरी है | और अगर आपके  बजट में कमी  हैं, तो करीबी दोस्त या परिवार से बात करना आपके लिए मददगार साबित हो सकता है।


तनाव मानव शरीर मे एक कैंसर की तरह है | जो आपकी ज़िंदगी को बुरा और बहुत बुरा बना सकता है | आप बस इसमें दवा के आदि होते जाते हो | आप दवा के आदि न हो ,किसी की मदद से नहीं इस परेशानी से आपको अपने आप ही निकलना होगा अपनी मदद आपको स्वयं करना होगा | तनाव से बचना आज के समय मे मुश्किल जरूर है पर नामुमकिन नहीं है |




Letsdiskuss




4
0

Picture of the author