मे भगवान् को बहुत मानता हूँ और वास्तु शाश्त्र पर भी विश्वास रखता हूँ,में जानना चाहता हूँ के घर मे मंदिर कौन सी दिशा मे होना चाहिए ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Satnaam singh

@letsuser | पोस्ट किया | ज्योतिष


मे भगवान् को बहुत मानता हूँ और वास्तु शाश्त्र पर भी विश्वास रखता हूँ,में जानना चाहता हूँ के घर मे मंदिर कौन सी दिशा मे होना चाहिए ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


आपके सवाल के अनुसार आप घर में मंदिर बनाने की दिशा जानना चाहते है | आप भगवान् पर विश्वास करते है ये बहुत अच्छी बात है | भगवान पर भरोसा होना ही चाहिए |क्योकि इस धरती में भगवान् विराजमान है ,तभी ये धरती कायम है | कुछ लोग भगवान पर विश्वास नहीं रखते है ,ऐसे लोग नाश्तिक होते है ,परन्तु कुछ लोगो में आज भी भगवान् पर विश्वाश बाकी है और ऐसे लोगो के कारण ही धरती में जीवन संभव है | 

वैसे तो हमारे घरों में मंदिर का होना अनिवार्य है,ऐसा कोई घर नहीं होगा जहाँ मंदिर न हो और होना भी चाहिए | घर में मंदिर होने से घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है | परन्तु घर बनाते समय इस बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि मंदिर कहां बनाया जाये | वास्तु  के अनुसार मंदिर घर के किस कोने में स्थापित करना चाहिए हम आपको बताते है |

वास्तु शाश्त्र के अनुसार घर में मंदिर हमेशा उत्तर-पूर्व मतलब ईशान कोण की तरफ होना चाहिए | आपका घर चाहें किसी भी दिशा में हो पर पूजा घर के लिए सबसे बढ़िया स्थान ईशान कोण ही होता है | इस दिशा में मंदिर होने से ज्ञान बढ़ता है और घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है | पूजा करते हुए हमेशा मुख पूर्व की तरफ़ होना चाहिए ऐसा करने से घर में धन आता है और समृद्धि का वास होता है वहीँ अगर आप अभी पढ़ाई कर रहे हैं तो उत्तर दिशा की तरफ़ मुख करके अध्ययन करें | 


Letsdiskuss
 

 


17
0

Picture of the author