मैं मरती हूँ, मैं कटती हूँ। पर रोते हो तुम, पहचानों कौन हूँ मैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Vandna dahiya

| पोस्ट किया | शिक्षा


मैं मरती हूँ, मैं कटती हूँ। पर रोते हो तुम, पहचानों कौन हूँ मैं?


2
0




| पोस्ट किया


आज यहां पर जो पहेली पूछी गई है वह एक बहुत ही अच्छी और मजेदार पहेली है पहेली है कि मैं मरती हूं, मैं कटती हूं, पर रोते हो तुम पहचानो कौन हूं मैं? दोस्तों इस पहेली का जवाब शायद ही आप लोगों को पता होगा यदि नहीं पता होगा तो मैं आज आपको इसका उत्तर दूंगी इस पहेली का उत्तर है प्याज  जी हां दोस्तों जब हम प्याज को काटते हैं तो वह हमारी आंखों को तीखी लगती है जिस वजह से हमारे आंखों में आंसू आ जाते हैं और हम रोने लगते हैं।Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


दोस्तों एक पहली है कि मैं मरती हूं, मैं करती हूं। पर रोते हो तुम पहचानो कौन हूं मैं, तो इसका जवाब है प्याज। जी हाँ प्याज जब हम प्याज को काटते है तो हमारे आंसू आ जाते है प्याज को खाने से कई फायदे होते हैं। लगभग सभी  भारतीय घरों कि रसोई में प्याज का उपयोग किया जाता है। प्याज को सब्जी में डाल देने से सब्जी का स्वाद दोगुना हो जाता है। प्याज का उपयोग सलाद के लिए किया जाता है। प्याज पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है प्याज में एंटीऑक्सीडेंट का गुण पाया जाता है जो हमें शरीर में होने वाले इन्फेक्शन से बचाने में सहायता करता है।

Letsdiskuss


0
0

Occupation | पोस्ट किया



यहाँ पर बहुत ही जबरदस्त पहेली पूछी गयी है कि मैं मरती हूँ, मैं कटती हूँ,पर रोते हो तुम, पहचानों कौन हूँ मैं? इस पहेली का जवाब बहुत कम लोग ही दे पाएंगे क्योकि कुछ लोगो को तो इस पहेली का मतलब ही समझ ना आ रहा होगा, लेकिन हमने इस पहेली का सही उत्तर बहुत ही प्रयास करने बाद ढूढ़े है जो प्याज़ है। प्याज़ को हम काटते है, तो रोते हम ही इसका मतलब यह हुआ कि प्याज़ को मारते, काटते है और फिर हम खुद ही रोते है।

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author