कौन सी किताबें हैं जो आपके व्यक्तित्व को बदल सकती हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


रंजीत केडिया

(BBA) in Sports Management | पोस्ट किया |


कौन सी किताबें हैं जो आपके व्यक्तित्व को बदल सकती हैं ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


वैसे तो बहुत से लेखक हैं, जिनकी किताबें पढ़कर आप अपनी personality में बदलाव कर सकते हैं | परन्तु मुझे लगता है, किसी इंसान को अपनी personality में बदलाव करने के लिए किसी भी प्रेरणादायक किताब को सिर्फ पढ़ने की नहीं बल्कि उन पर अमल करने की भी जरूरत है | आइये आपको कुछ किताबों के बारें में बताते हैं |


जीत आपकी :-
जीत आपकी किताब मोटिवेशनल गुरु शिव खेड़ा की है | इस किताब में शिव खेड़ा द्वारा लिखी एक एक कहानी में इतनी प्रेरणा है, कि इंसान को इसके बाद शायद कुछ समझाने की जरूरत होगी | यह पुस्तक हिंदी में काफी लोकप्रिय भी है |

Letsdiskuss (Courtesy : Amazon.in )

भगवत गीता :-
ज़िंदगी में सफल होने की कामना रखते हैं, तो आप भगवत गीता का पाठ जरूर करें | भगवत गीता में भगवान कृष्णा ने अर्जुन को सफलता की बहुत सारी बातें बताई है | आपका मन जब भी अशांत हो या घबराहट हो तो आपको इस किताब को जरूर पढ़ना चाहिए | गीता में भगवान कृष्णा के द्वारा कही गई बातें इतनी महत्वपूर्ण है, जो कि उनका अध्यन आपको आपके जीवन में सफलता जरूर दिलाएगा |

(Courtesy : IndiaMART )

थिंक एंड ग्रो रिच :-
यह किताब पूरी दुनिया में सबसे महानतम और सबसे अधिक पढ़ी जाने वाली किताबों में से एक है | इस किताब की प्रेरणा आपके जीवन को एक बेहतर राह देने में आपकी मदद करेगी | इस किताब का पूरी दुनिया में इतना अधिक पढ़ा जाना किसी आश्चर्य से कम नहीं है | नेपोलियन हिल द्वारा लिखी गई इस किताब में ऐसी कई सारी प्रेरणादायक कहानियां हैं, जिनको पढ़ कर आप अपने जीवन के बेहतर फैसले ले सकते हैं और साथ ही आप सफल बन सकते हैं |

(Courtesy : AudiobookSTORE.com )

पॉवर ऑफ़ पोसिटिव थिंकिंग :-
नार्मन विन्सेंट द्वारा लिखी इस किताब में सकारात्मक सोच का एक पिटारा है, जो कि मनुष्य को उसके जीवन में हमेशा अच्छाई और सफलता प्राप्त करने में मदद करता है | अगर आप हमेशा नकारात्मक परेशानी में घिरे हुए हैं तो आप इस किताब को जरूर पढ़ना चाहिए और इस किताब में लिखी हुई बातों को बारीकी से समझना चाहिए |

(Courtesy : Carousell )


0
0

Picture of the author