व्रत और पूजन के साथ-साथ माता को प्रसन्न करने के लिए और क्या करना चाहिए ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Urmila Solanki

BBA in mass communication | पोस्ट किया | ज्योतिष


व्रत और पूजन के साथ-साथ माता को प्रसन्न करने के लिए और क्या करना चाहिए ?


6
0




Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


हमारे हिंदू धर्म में देवी देवताओं का पूजा-पाठ बहुत ही अधिक महत्व रखता है जिसे व्यक्ति शुद्ध अवस्था में ही कर सकता है। प्रतिदिन व्यक्ति को स्नान करके ही मां दुर्गा का पूजन पाठ करना चाहिए। मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए आप “ऊँ ह्रीं दुं दुर्गायै नम:” का जाप कर सकते हैं। क्योंकि जो व्यक्ति सच्चे मन से मां दुर्गा का जाप करता है उससे मां प्रसन्न हो जाती हैं। मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए प्रतिदिन प्रात काल के समय शहद मिला दूध अर्पित करना चाहिए और मां के नौवें दिन 9 कन्याओं को भोजन कराना चाहिए। Letsdiskuss


3
0

Social Activist | पोस्ट किया


माता को प्रसन्न करने के लिए उनका व्रत और पूजन करना बहुत शुभ होता है | जैसा कि सभी जानते हैं, हमारे हिन्दू धर्म में देवी शक्तियों में माँ पार्वती, माँ सरस्वती और माँ लक्ष्मी माना गया है | यह तीन देवी जब एक साथ मिलती हैं, तो एक शक्ति का निर्माण होता है, जो माँ दुर्गा का रूप ले लेती हैं | आज आपको बताते हैं कि तीनो देवियों का व्रत और पूजन के साथ-साथ उनको प्रसन्न करने के लिए और क्या कर सकते हैं |


माता पार्वती :-
माता पार्वती जिनको माता सती का दूसरा रूप भी माना जाता है | माता पार्वती का व्रत और पूजन महिला को सदा सुहागन का आर्शीवाद प्रदान करती है | सावन के महीने में केवल शिव जी का ही नहीं बल्कि माता पार्वती जी का पूजन भी करना चाहिए | यह पूजन बहुत ही लाभकारी होता है | आप सोमवार के दिन केवल शिव जी ही नहीं बल्कि माता पार्वती जी के नाम का व्रत ले सकते हैं | जब भी आप पार्वती जी का व्रत और पूजन करें तो साथ ही आप कुछ मन्त्रों का उच्चारण करें इससे इससे आपको पार्वती जी के व्रत और पूजन से ज्यादा लाभ मिलेगा | वैसे पार्वती जी का व्रत सौभाग्यवती रहने का वरदान प्राप्त करता है |

"गौरी मे प्रीयतां नित्यं अघनाशाय मंगला।
सौभाग्यायास्तु ललिता भवानी सर्वसिद्धये "

Letsdiskuss (Courtesy : Panditbooking )

माता सरस्वती :-
माता सरस्वती का पूजन हर बुधवार को किया जाता है | माता सरस्वती जी विद्द्या की देवी है जो कि विद्द्या प्रदान करती है | माता सरस्वती जी का पूजन हर बुधवार के दिन किया जाता है | माता सरस्वती जी के पूजन के दिन हलके हरे रंग के वस्त्र पहनना चाहिए | माता सरस्वती जी को सफ़ेद फूल बहुत पसंद है | 108 बार इस मंत्र का जाप आपको विद्द्या प्रदान करता है |
" ॐ ह्रीं ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नमः"

(Courtesy : IndiaMART )

माता लक्ष्मी :-
माता लक्ष्मी को तो हर कोई प्रसन्न करना चाहता है | वर्तमान समय में माता लक्ष्मी को सभी लोग खुश करना चाहते हैं | दिवाली के दिन माता लक्ष्मी का पूजन सभी करते हैं | सप्ताह में हर शुक्रवार को माता लक्ष्मी जी का पूजन किया जाता है | लोग व्रत भी लेते है, माता लक्ष्मी का व्रत और पूजन इंसान को धन संपत्ति से भरपूर बनाता है | जब भी माता की पूजा करें इस मंत्र का जाप 108 बार जरूर करें |
"ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम:"

(Courtesy : Patrika )


3
0

| पोस्ट किया


जैसा कि आप सभी जानते हैं कि यदि आप किसी देवी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको उनका व्रत करना तथा पूजन पाठ करने से देवी प्रसन्न होती हैं आज हम आपको यहां पर कुछ ऐसे उपाय बताना चाहते हैं जिनको अपनाकर आप देवी के पूजा के साथ-साथ हुए प्रसन्न कैसे कर सकते हैं।

यदि आप माता सरस्वती को प्रसन्न करना चाहती हैं तो इसके लिए आपको हर बुधवार माता सरस्वती का जप करना होगा इस दिन हल्के हरे रंग के वस्त्र पहनने चाहिए और माता सरस्वती जी को सफेद गुलाब काफी पसंद होते हैं इसलिए आपने सफ़ेद गुलाब अर्पित करके 108 बार उनका मंत्र का जप करके उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं।Letsdiskuss


3
0

Occupation | पोस्ट किया


व्रत और पूजन के साथ -साथ माँ लक्ष्मी क़ो प्रसन्न करने के लिए तुलसी को भी मां लक्ष्‍मी का ही रूप माना जाता है और शरद पूर्णिमा के दिन तुलसी की पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है। जिस घर में तुलसी की नित्‍य पूजा की जाती है उस घर के लोगों पर मां लक्ष्‍मी बहुत ही प्रसन्‍न होती हैं। शरद पूर्णिमा के दिन तुलसी के पेड़ पर घी का दीपक जलाये और सुहाग की वस्‍तुएं भी चढ़ाये,अगले दिन ये वस्‍तुएं किसी सुहागिन महिला को दान करने से आपके पति की दीर्घायु होंगी और मां लक्ष्‍मी की कृपा आप पर सदैव बनी रहेंगी।

Letsdiskuss


2
0

');