कौन सी आदतों की वजह से आपका रिश्ता ख़राब हो सकता है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


श्याम कश्यप

Choreographer---Dance-Academy | पोस्ट किया |


कौन सी आदतों की वजह से आपका रिश्ता ख़राब हो सकता है ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


अक्सर शादी-शुदा ज़िंदगी में कई ऐसी समस्याऐं आ जाती है, जिससे दूरियां बढ़ जाती है | कुछ ऐसी गलतियां हो जाती है, जिसके कारण जीवन में कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है | आज हम कुछ ऐसी ही आदतों की बात कर रहे हैं, जिनके कारण रिश्तों में दूरी आ सकती है |


- बातें शेयर करने की आदत :-
जब भी हम दोस्ती के माहौल में होते हैं, तो हम अपने अच्छे दोस्तों से बातें शेयर कर लेते हैं | कुछ लोग अपने फेमिली के साथ भी अपनी बातें शेयर कर लेते हैं | पर जब आप शादी के बाद अपनी बातें किसी दूसरे को बताते है, तो इससे आपके साथी को बुरा लग सकता है, और साथ ही आप उसकी नज़र में अपना विश्वास खो देते हैं | जिसके कारण अक्सर रिश्तें ख़राब होने की नौबत आ जाती है |

- किसी भी चीज़ की लत :-
किसी भी चीज़ का लत आपके रिश्ते में खराबी ला सकता है | जरुरी नहीं की आप में सिर्फ ड्रिंक करने या स्मोक करने की लत हो जो बुरी हो | कुछ लोग इंटरनेट , सोशल मीडिया या टेलीविज़न के आदी हो सकते हैं | किसी भी चीज़ की लत आपके जीवन में अच्छी नहीं ऐसी कोई भी लत होने की आदत आपके रिश्ते ख़राब कर देती है |

- लापरवाह होना :-
किसी भी रिश्ते में सबसे जरुरी होता है, कि हम एक दूसरे की केयर करें, एक दूसरे का ख्याल रखें | किसी भी रिश्ते में लापरवाह होना जितना बुरा होता है, उतना ही रिश्तों के लिए हानिकारक भी होता है | शादी-शुदा ज़िंदगी में अगर दोनों में से कोई एक भी लापरवाह होता है, तो आपका रिश्ता ख़राब होता है |

- महत्व न देना :-
रिश्ता कोई भी हो , उसको महत्व देना जरुरी होता है | जब भी किसी रिश्ते को दो लोगों में से एक भी महत्व नहीं देता तो फिर परेशानी का सामना करना ही पड़ता है | किसी भी रिश्ते को निभाने की जिम्मेदारी सिर्फ एक ही इंसान की नहीं होती यह दोनों की जिम्मेदारी होती है | जब आप अपने साथी को महत्व नहीं देंगे, सिर्फ अपने आप से मतलब रखेंगे तो यह स्वाभाविक है कि आपके रिश्तों में खराबी आएगी |

Letsdiskuss

अपना जीवन साथी चुनने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ? जानने के लिए नीचे link पर Click करें -


0
0

Picture of the author