सेरेना विलियम्स Instagram पर टॉपलेस क्यों नज़र आयीं ? - Letsdiskuss
img
Download LetsDiskuss App

It's Free

LOGO
गेलरी
प्रश्न पूछे

Rohit Valiyan

Cashier ( Kotak Mahindra Bank ) | पोस्ट किया 01 Oct, 2018 |

सेरेना विलियम्स Instagram पर टॉपलेस क्यों नज़र आयीं ?

अमन कुमार

Working (West Delhi Cricket academy) | | अपडेटेड 02 Oct, 2018

नायमी ओसाका के खिलाफ अपने अंतिम US Open 2018 मैच के बाद सेरेना विलियम्स महिला अधिकारों के बारे में बहुत मुखर रही हैं। लोगों ने इसे नारीवाद के नाम पर प्रचार- प्रसार और ख़बरों में बने रहने के रूप में देखा होगा, लेकिन अगर गंभीर रूप से विश्लेषण किया जाये, तो ऐसी कुछ चीज़े हैं जिनपर वास्तव में महिला टेनिस खिलाड़ियों के लिए आवाज़ उठाने की आवश्यकता थी और विलियम्स ने सफलतापूर्वक ऐसा किया |

मैच के बाद सेरेना विलियम्स ने कहा, 
"मैं बस इस तथ्य को महसूस करती हूं कि मुझे इस माध्यम से जाना है कि अगले व्यक्ति के लिए एक उदाहरण हो, जो यही महसूस करते हो, और जो स्वयं को व्यक्त करना चाहते हैं, और एक मजबूत महिला बनना चाहते हैं।
"उन्हें आज के कारण ऐसा करने की इजाजत दी जायगी। शायद यह मेरे लिए काम नहीं कर सका, लेकिन यह अगले व्यक्ति के लिए काम करने जा रहा है।" (स्रोत: चैनल न्यूज़ एशिया)

मौजूदा मुद्दे पर आते हैं, सेरेना विल्लियम्स ने हाल ही में इंस्टाग्राम पर एक वीडियो डाली है जिसमे वह टॉपलेस नज़र आ रही हैं | यह स्तन कैंसर के विषय में जागरूकता के बारे में है। सेरेना इस वीडियो में "द डिप्लिन" का ग्लोबल हिट गाना '' I Touch Myself' गा रही हैं। इस वीडियो के माध्यम से वह महिलाओ को उनके शारीरिक स्वास्थ पर ध्यान देने और उसे नियमित रूप से जांचने के विषय में अवगत करा रहीं हैं । 

सेरेना विल्लियम्स यह महिलाओ के स्वास्थ के लिए कर रही हैं, माँ बनने के पश्चात् उन्होंने बहुत सी समस्याओ का सामना किया और इसीलिए वह अन्य महिलाओ को उन समस्याओ से निकलने के लिए प्रेरित कर रहीं हैं |

सेरेना के अपने शब्दों में -

"हाँ, इसने मुझे मेरे आराम क्षेत्र से बाहर कर दिया, लेकिन मैं इसे करना चाहती थी क्योंकि यह एक मुद्दा है जो दुनिया भर की महिलाओ चाहे वह किसी भी रंग की हों, को प्रभावित करता है ।"

दुनिया की सबसे बड़ी महिला टेनिस खिलाड़ी होने के बावजूद सेरेना विलियम्स ने लिंगभेद और स्वास्थ्य के आधार पर संघर्ष का सामना किया है और इसलिए वह महिलाओं द्वारा सामना की जाने वाली समस्याओं के लिए ज्यादा चिंतित और जागरूक हैं। स्तन कैंसर, ऐसा एक संघर्ष है जो वह नहीं चाहती कि किसी भी महिला को उससे पीड़ित होना पड़े।