क्या हिंदुओं को शुद्ध शाकाहारी होना चाहिए? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


ravi singh

teacher | पोस्ट किया |


क्या हिंदुओं को शुद्ध शाकाहारी होना चाहिए?


0
0




Occupation | पोस्ट किया


हिन्दू धर्म के लोगो के लिए सबसे शुद्ध शाकाहारी भोजन उत्तम माना गया है। क्योंकि हिन्दू धर्म तो पंडित भी आते है पंडितो के घर मे चिकन का नाम लेना भी पाप मनते है। हालांकि हिन्दू धर्म मे मांस खाना पूरी तरह से वर्जित है,क्योंकि ऋषि वेदो के अनुसार बताया गया है कि जो लोग मांस खाते है उनको राक्षस का दर्जा दिया गया है क्योंकि किसी भी जीव को मारकर उसका मांस खाने से पाप लगता है इसलिए हमें हमेशा शुद्ध शाकाहारी भोजन करना चाहिए। लेकिन नयी पीढ़ी के बदलते माहौल को देख कर हिन्दू मुस्लिम अब सब धर्मों मे ज्यादातर मांसाहारी भोजन का सेवन करना अधिक उत्तम समझते है लेकिन किसी के प्राणो हत कर उसका भोजन करने से पाप लगता है इसलिए रोजाना लोगो की मौते होती है क्योंकि आप भी एक प्राणी है किसी दूसरे प्राणी की जान हत्यकर उसका सेवन करेंगे तो पाप चढ़ेगा ही हैं।

Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


हिंदू धर्म के लोगों के लोगों के लिए सबसे अच्छा भोजन शाकाहारी माना गया है!क्योंकि शाकाहारी भोजन सभी धर्मों के लोग करते हैं!और उसमें से पंडित भी होते हैं, इसीलिए हमें शाकाहारी भोजन करना चाहिए, लेकिन आजकल के लोग जीवो की हत्या कर अपना भोजन करते हैं!ऋषि लोगों ने कहा है कि जो लोग मांस खाते हैं वह राक्षस होते हैं!क्योंकि किसी भी जीव को मारकर कर खाने से पाप लगता है! और मेरा मानना है,कि हिंदू धर्म को यह पाप नहीं करना चाहिए, और शुद्ध शाकाहारी होना चाहिए!Letsdiskuss


0
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


हिंदुओं को हमेशा शाकाहारी भोजन  करना चाहिए! और उन्हें अपने धर्म का पालन करना चाहिए,क्योंकि सदियों से चली आ रही या एक परंपरा है,कि हिंदू कभी भी किसी जीव की हत्या नहीं करते है! क्योंकि मास खाने से हमें पाप लगता है!हमें किसी जीव को नहीं मारना चाहिए!हमें हमेशा शुद्ध शाकाहारी भोजन करना चाहिए जैसे :रोटी,दाल,सब्जी, पूरी खीर इत्यादि भागवत में भी कहा जाता है की जो व्यक्ति मांस खाता है!एक राक्षस के समान होता है!क्योंकि भगवान ने भी मास खाने के लिए शेर,चीते जैसे जानवरों को बनाया है!Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


हिंदू धर्म में मांस मदिरा खाना सख्त मना है क्योंकि शास्त्रों के अनुसार हिंदू धर्म में मांस खाना घोर पाप माना जाता है भारत में अलग-अलग समुदायों में अलग-अलग भोजन की आदतें होते हैं  और हिंदू किसी की हत्या भी करना पाप माना जाता है और यह सब किसी भी थाने में नहीं करना चाहिए किसी का जीवन नहीं छिनना चाहिए। और भारत में विभिन्न समुदायों की मांसाहारी प्रथाओं को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए आखिरकार तक भी यही है कि खाद्य जनगणना के अनुसार भारत में 70 की जनसंख्या किसी न किसी रूप से मार खाती ही है.। और हमने घर का ही खाना खाना चाहिए ना की किसी जीव की हत्या करना चाहिएLetsdiskuss। और सब को शाकाहारी ही रहना चाहिए.।


0
0

Picture of the author